Home /News /nation /

Kerala Rain: भारी बारिश के बाद आज खोले जाएंगे इडुक्‍की समेत 3 बांधों के गेट, रेड अलर्ट जारी

Kerala Rain: भारी बारिश के बाद आज खोले जाएंगे इडुक्‍की समेत 3 बांधों के गेट, रेड अलर्ट जारी

आज खोले जाएंगे इडुक्‍की बांध के गेट. (File pic)

आज खोले जाएंगे इडुक्‍की बांध के गेट. (File pic)

Kerala Rain: केरल में भारी बारिश के कारण 10 बांधों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने नदियों के किनारे रहने वाले लोगों से काफी सतर्कता बरतने को कहा है.

    तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala Rain) में भारी बारिश (Rain) से मची तबाही के बाद आज मंगलवार को तीन बांधों (Dam Gate) के गेट खोलकर पानी छोड़ा जाएगा. इनमें एशिया के सबसे ऊंचे आर्च डैम में शामिल इडुक्की बांध (Idukki Dam) के गेट भी सुबह खोल दिए जाएंगे. राज्य के जल मंत्री रोशी ऑगस्टीन ने सोमवार को बताया कि राज्य के पूर्व के अनुभव और लोगों की चिंताओं को दूर करने के लिए इसे खोला जाएगा.

    इडुक्की जिला प्रशासन द्वारा बांध में जल स्तर बढ़ने के कारण शाम छह बजे रेड अलर्ट जारी करने के बाद मंत्री ने पेरियार नदी पर बने बांध के द्वार को खोलने की घोषणा की. सोमवार की सुबह सात बजे बांध में पानी का जल स्तर 2396.86 फुट हो गया था और मंगलवार सुबह सात बजे तक इसे 2398.86 के ऊपरी स्तर को पार करने की संभावना है, इसलिए लोगों से सतर्क रहने के लिए कहा गया.

    मंत्री ने कहा है कि इडुक्की बांध में बढ़ते जल स्तर को देखते हुए इसके दो फाटकों को 50 सेंटीमीटर खोलने का निर्णय किया गया है, ताकि 100 क्यूबिक मीटर प्रति सेकंड की दर से पानी निकल जाए. राज्य सरकार ने घोषणा की है कि इडुक्की बांध के अलावा चलाकुडी नदी पर शोलयार और कक्की नदी पर कक्की बांध के गेट को पहले ही खोल दिए गए हैं, जबकि एर्णाकुलम में इडामलयार और पत्तनमथिट्टा में पम्पा बांध के फाटक को मंगलवार की सुबह खोला जाना है.

    मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने उन नदियों के किनारे रहने वाले लोगों से काफी सतर्कता बरतने और आवश्यक एहतियाती कदम उठाने को कहा, जिन पर बने बांध के गेट खोले जा रहे हैं. इन सभी बांधों के गेट को खोले जाने से 2018 के बाढ़ की यादें ताजा हो सकती हैं, जब भारी बारिश के कारण राज्य के अधिकतर बांधों को खोल दिया गया था, जिस कारण काफी बाढ़ एवं भूस्खलन का सामना करना पड़ा था और कई लोगों की जान चली गई थी और संपत्ति को भी काफी नुकसान पहुंचा था.

    इडामलयार एवं इडुक्की बांधों से पानी छोड़े जाने पर यह एर्णाकुलम के व्यावसायिक केंद्र अलुवा से गुजरेगा, इसे ध्यान में रखते हुए राज्य के उद्योग मंत्री पी राजीव ने एक बैठक की. बैठक के बाद राजीव ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं कि इडुक्की और इडामलयार बांधों से छोड़ा गया पानी पेरियार में एक साथ नहीं बहे.

    इससे पहले केरल के राजस्व मंत्री के. राजन ने सोमवार को बताया कि जलग्रहण क्षेत्रों में भारी बारिश के कारण जल स्तर बढ़ने के बाद राज्य में 10 बांधों के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है और यहां कक्की बांध के दो द्वार भी खोल दिए गए हैं. सबरीमला स्थित भगवान अयप्पा मंदिर की तीर्थयात्रा भी फिलहाल रोक दी गई है.

    Tags: Flood, Kerala, Rain alert

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर