केरल में टूटे कोरोना के सारे रिकॉर्ड्स, 24 घंटे में 42,464 नए मामले दर्ज; 8 मई से संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा

केरल में कोरोना के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं.

केरल में कोरोना के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं.

Kerala Coronavirus: स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार केरल में 6 मई (गुरुवार) को 42,464 नए मामले दर्ज किए गए हैं. ये अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश में हर दिन चार लाख के करीब कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. कोरोना से होने वाली मौतों में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है. महाराष्ट्र के बाद केरल में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. गुरुवार को केरल में कोरोना विस्फोट (Kerala Coronavirus Case) हुआ है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार केरल में 6 मई (गुरुवार) को 42,464 नए मामले दर्ज किए गए हैं. ये अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

राज्य सरकार ने बताया कि गत 24 घंटे में 23,106 मरीज ठीक हुए हैं. राज्य में बीते 24 घंटे में 58 और मरीजों की मौत होने के साथ अब तक यहां महामारी में जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5,565 हो गई है. इससे पहले बुधवार को कोविड के 41,953 नए मामले आए हैं. सरकार के मुताबिक इस समय राज्य में 3,75,658 मरीज उपचाराधीन हैं और जांच किए जा रहे नमूनों के अनुपात में संक्रमण की दर 25.69 प्रतिशत है. सरकार के मुताबिक एर्णाकुलम में सबसे अधिक 6,558 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई जबकि कोझिकोड में 5,180, मलाप्पुरम में 4,116, त्रिशूर में 3,731, तिरुवनंतपुरम में 3,727 और कोट्टयम में 3,432 नए मामले आए.

8 से 16 मई तक लॉकडाउन का ऐलान

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को देखते हुए केरल में 8 मई से 16 मई तक के लिए संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया है. केरल के सीएम पिनराई विजयन ने बताया कि 8 मई को सुबह 6 बजे से 16 मई तक राज्य में लॉकडाउन लागू रहेगा.


'संक्रमण रोकने के लिए कड़े कदम उठाना जरूरी'

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने एक दिन पहले ही स्थिति को गंभीर करार देते हुए कहा था कि संक्रमण को रोकने के लिए और कड़े कदम उठाए जाएंगे. विजयन ने अधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा करने के बाद कहा कि वार्ड स्तर की समितियों को मजबूत करने के निर्देश दिए जा रहे हैं और इलाके के मेडिकल छात्रों को त्वरित प्रक्रिया टीम में शामिल किया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज