कोरोना: महाराष्ट्र में 67 हजार केस, बुरी तरह बिगड़े केरल के हालात, 27 हजार नए मामले

केरल में नए मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई है.   (PTI File Photo)

केरल में नए मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई है. (PTI File Photo)

महाराष्ट्र (Maharashtra) में गुरुवार को एक बार फिर 67 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं. राज्य में करीब एक हफ्ते से ज्यादा समय से सख्त पाबंदियां लागू हैं लेकिन नए मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. वहीं दक्षिण भारतीय राज्य केरल से भी चिंताजनक खबरें सामने आ रही हैं. गुरुवार को राज्य में 27 हजार मामले आए हैं जो अभी तक का रिकॉर्ड है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 9:18 PM IST
  • Share this:
मुंबई/तिरुवनंतपुरम. कोरोना से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र (Maharashtra) में गुरुवार को एक बार फिर कोरोना के 67 हजार से ज्यादा मामले (New Covid Cases) सामने आए हैं. राज्य में करीब एक हफ्ते से ज्यादा समय से सख्त पाबंदियां लागू हैं लेकिन नए मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. वहीं दक्षिण भारतीय राज्य केरल से भी चिंताजनक खबरें सामने आ रही हैं. गुरुवार को राज्य में 27 हजार मामले आए हैं जो अभी तक का रिकॉर्ड है. कोरोना की पहली लहर को रोकने के लिए केरल की सब तरफ तारीफ हुई थी लेकिन दूसरी लहर राज्य में बुरी तरह फैल  रही है.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी मुताबिक महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के दौरान 67,013 लोग संक्रमित हुए हैं. हालांकि 62,298 लोगों ने बीमारी को मात भी दी है. पूरे राज्य में 568 लोगों की महामारी से मौत हुई है. अकेले राजधानी मुंबई में 7400 से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. राज्य में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 40,94,840 हो गई है.

कल ही और सख्त किए गए हैं नियम

बुधवार को ही राज्य सरकार ने बढ़ते मामलों के मद्देनजर नए नियम लागू किए हैं. सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों की संख्या कम की गई है तो वहीं सार्वजनिक वाहन का इस्तेमाल सिर्फ मूलभूत सुविधाओं में लगे लोग ही कर सकेंगे. वहीं शादियों के लिए भी और कड़े नियम बनाए गए हैं.
केरल के हालात

केरल में कुछ ही दिनों पहले विधानसभा चुनावों की वोटिंग संपन्न हुई है. अभी चुनाव परिणाम आने बाकी हैं. लेकिन कोरोना के हालात राज्य में बुरी तरह बिगड़ने लगे हैं. बीते 24 घंटे के दौरान 26,995 मामले सामने आए हैं. इसी अवधि के दौरान 28 लोगों की मौत हुई है. महाराष्ट्र के बाद केरल देश के कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्यों में रहा है. बीते साल महामारी का देश में पहला मामला भी केरल से ही सामने आया था. लेकिन राज्य सरकार के सतर्कता भरे कदमों की वजह से पहली लहर व्यापक रूप नहीं लेने पाई थी. अब केरल पर कोरोना की दूसरी लहर का जबरदस्त खतरा मंडराता दिख रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज