अफ़गानिस्तान जेल पर हमले में मारे गये आत्मघाती हमलावरों में एक केरल निवासी, IS में हुआ था शामिल

अफगानिस्तान की सुरक्षा बलों ने सोमवार को अफगानिस्तान के जलालाबाद में एक जेल परिसर पर हमले के बाद एक इमारत को निशाने पर लिया, जहां हमलावर छिपे हुए थे (फोटो- AP)
अफगानिस्तान की सुरक्षा बलों ने सोमवार को अफगानिस्तान के जलालाबाद में एक जेल परिसर पर हमले के बाद एक इमारत को निशाने पर लिया, जहां हमलावर छिपे हुए थे (फोटो- AP)

मई 1984 में अब्दुल रहमान परम्बथ और अफसथ कल्लुकेत्तिया के घर जन्मा, पुरयिल 2016 के मध्य में अफगानिस्तान (Afghanistan) के लिए रवाना हो गया था. वह केरल (kerala) के 26 मूल निवासियों के दल में शामिल होकर उपदेशक अब्दुल रशीद अब्दुल्ला के एक इस्लामी पंथ (Islamist cult) से जुड़ने गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 11:08 PM IST
  • Share this:
(प्रवीण स्वामी)

नई दिल्ली. खुफिया सूत्रों ने News18 को बताया है कि केरल (Kerala) के कासरगोड (Kasargod) से आने वाला, और एक समय दांतों का डॉक्टर (dentist) रहा इजास कल्लुकेत्तिया पुरयिल भी अफगानिस्तान (Afghanistan) की जलालाबाद जेल पर हमले के दौरान मारे गये आत्मघाती हमलावरों में शामिल था. इस घटना में ISIS की जिहादी इकाई ने अफगानिस्तान के जलालाबाद की जेल (Jalalabad prison) पर हमला किया था.

ईद के मौके पर जिहादियों (jihadists) को जेल से आजाद कराने के उद्देश्य से किए गए इस हमले में कम से कम 10 आत्मघाती हमलावरों (suicide attackers) सहित 29 लोगों के मारे जाने की खबर है. आत्मघाती हमलावर की पत्नी (wife), राफिला पुरयिल को काबुल की बादाम बाग जेल में अपने पांच साल के बेटे, अयान और अफगानिस्तान में पैदा हुए उसके एक शिशु (infant) के साथ रखा गया है.



परिवार को इस्लामिक स्टेट के सोशल मीडिया संदेश से मिली जानकारी
पुलिस सूत्रों ने बताया कि परिवार को सोमवार को सोशल मीडिया पर प्रसारित संदेशों से पुरयिल की मौत की जानकारी मिली. मामले से परिचित केरल पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उन्हें अभी तक विदेश मंत्रालय से मौत की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं मिली है, लेकिन वे जानकारी मांग रहे थे.

अधिकारी ने कहा, "इन चीजों के बारे में निश्चित होने का एकमात्र तरीका यह है कि शरीर का डीएनए उसके माता-पिता से लिया जाए." "यह देखते हुए कि भारत और अफगानिस्तान के बीच उड़ानें सामान्य रूप से नहीं चल रही हैं, इसमें कुछ समय लग सकता है."

पुरयिल इस्मामिक स्टेट के आत्मघाती हमलों में मारा जाने वाला दूसरा केरल का रहने वाला
पुरयिल इस्लामिक स्टेट से जुड़े आत्मघाती हमले में मारा जाने वाला मूल रूप से केरल का रहने वाला दूसरा जिहादी है. इससे पहले संयुक्त अरब अमीरात में रहने वाले केरल के 21 वर्षीय हाई-स्कूल ड्रॉपआउट मुहम्मद मुहसिन को काबुल के एक गुरुद्वारे पर हमले के दौरान मारा गया था. इस हमले में शहर के छोटे सिख समुदाय के 27 सदस्यों की जान गई थी.

यह भी पढ़ें: LoC के करीब पहली बार महिला सैनिकों की तैनाती, रायफल वूमेन को सौंपी जिम्मेदारी

मई 1984 में अब्दुल रहमान परम्बथ और अफसथ कल्लुकेत्तिया के घर जन्मा, पुरयिल 2016 के मध्य में अफगानिस्तान के लिए रवाना हो गया था. वह केरल के 26 मूल निवासियों के दल में शामिल होकर उपदेशक अब्दुल रशीद अब्दुल्ला द्वारा संचालित एक इस्लामी पंथ से जुड़ने गया था. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने उस साल के अंत में अंतरराष्ट्रीय पुलिस एजेंसी इंटरपोल के माध्यम से एक नोटिस जारी कर उसकी गिरफ्तारी की मांग की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज