सबरीमाला में महिला ने रखा पैर तो हमारी कार्यकर्ता करेंगी आत्महत्या: शिवसेना

शिवसेना ने शनिवार को चेताया है कि अगर महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश किया तो बड़ी संख्या में आत्महत्याएं होंगी.

News18Hindi
Updated: October 13, 2018, 7:04 PM IST
सबरीमाला में महिला ने रखा पैर तो हमारी कार्यकर्ता करेंगी आत्महत्या: शिवसेना
सबरीमाला मंदिर की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: October 13, 2018, 7:04 PM IST
शिवसेना की केरल यूनिट सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले का खिलाफ विरोध कर रही है, जिसमें सभी उम्र की महिलाओं को सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने की इजाजत दे दी गई है. शिवसेना ने शनिवार को चेताया है कि अगर महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश किया तो बड़ी संख्या में आत्महत्याएं होंगी.

शिवसेना के एक सदस्य पेरिंगामाला ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि हमारी महिला कार्यकर्ता पंबा नदी के किनारे आत्महत्या के लिए 17 और 18 अक्टूबर को इकट्ठा होंगी. अगर किसी भी युवा महिला ने मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश की, तो हमारी कार्यकर्ताआत्महत्या कर लेंगी.

28 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश की मनाही को हटा दिया था. कोर्ट ने कहा था कि हर उम्र की महिला को मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति है.

ये भी पढ़ें- पीरियड्स नहीं बल्कि ये थी सबरीमाला मंदिर में महिलाओं पर रोक की वजह

इस फैसले के आने के बाद केरल में इस फैसले को लेकर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुए हैं. इस फैसले का विरोध करने वालों में कई महिलाएं भी शामिल हैं. ये महिलाएं मंदिर में प्रवेश करने से खुद इनकार कर रही हैं.

बता दें कि केरल शिवसेना की इस चेतावनी के बाद वहां के मुख्यमंत्री पी विजयन ने कहा है कि उनकी सरकार कोर्ट के फैसले का पालन करेगी.

ये भी पढ़ें- मलयाली एक्टर की धमकी- सबरीमाला में पैर रखें महिलाएं तो दो टुकड़े कर दो
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर