केरल में छात्रों ने लहराया पाकिस्तान से मिलता-जुलता झंडा, मामला दर्ज

पुलिस (Police) ने रविवार को बताया कि सिल्वर आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज में 27 अगस्त को हुई घटना का वीडियो फुटेज सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल (Viral) होने के बाद एक मामला दर्ज किया गया है.

भाषा
Updated: September 1, 2019, 8:17 PM IST
केरल में छात्रों ने लहराया पाकिस्तान से मिलता-जुलता झंडा, मामला दर्ज
पाक के ध्वज से मिलता-जुलता झंडा लहराने पर केरल के कॉलेज के छह छात्र निलंबित. (सांकेतिक तस्वीर)
भाषा
Updated: September 1, 2019, 8:17 PM IST
केरल (Kerala) के परंबरा के निकट एक कॉलेज के छात्रों ने परिसर में चुनाव प्रचार के दौरान पाकिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज (Pakistan's National Flag) से मिलता-जुलता झंडा लहराया. जिसके बाद कॉलेज के छह छात्रों को निलंबित कर दिया है और पुलिस ने इस संबंध में एक प्राथमिकी (FIR) दर्ज की है. हरे रंग का झंडा कॉलेज में हो रहे चुनाव को लेकर मुस्लिम स्टूडेंट्स फेडरेशन (एमएसएफ) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में लहराया गया.

एमएसएफ इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) की छात्र इकाई है. एमएसएफ नेतृत्व ने हालांकि आरोपों को खारिज कर दिया और दावा किया कि यह संगठन का आधिकारिक झंडा है, न कि पाकिस्तान का राष्ट्रीय ध्वज, जैसा कि आरोप लगाया जा रहा है.

पुलिस ने रविवार को बताया कि सिल्वर आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज में 27 अगस्त को हुई घटना का वीडियो फुटेज सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल (Viral) होने के बाद एक मामला दर्ज किया गया है. मामला आईपीसी की धारा 153 (बलवा कराने के आशय से जानबूझकर भड़काना), धारा 143 (गैर कानूनी तरीके से जमा होना) और धारा 147 (बलवे के लिये सजा) के समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

घटना का वीडियो हुआ वायरल

एक जांच अधिकारी ने बताया, 'यह घटना वीडियो फुटेज के वायरल होने के बाद प्रकाश में आई. गैर कानूनी तरीके से जमा होने और बलवा कराने के आशय से भड़काने समेत अन्य आरोपों के लिये मामला दर्ज किया गया है. व्यापक जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.'

छह छात्र सस्पेंड, तलाश जारी
अधिकारी ने कहा, 'इस विवादास्पद झंडे में एमएसएफ का लोगो भी नहीं था. यह मानक आकार के अनुपात में भी नहीं था.' इस संबंध में कॉलेज के छह छात्रों को निलंबित कर दिया गया है और वे फरार हैं. अधिकारी ने बताया कि उन्हें पकड़ने के लिये तलाश जारी है.
Loading...

ये भी पढ़ें: Analysis: पाक के खिलाफ एशिया पैसिफिक ग्रुप के कठोर कदम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2019, 5:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...