• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • केरल से भागकर IS में शामिल हुए थे, अब अफगानिस्तान जेल हमले में आ रहा नाम

केरल से भागकर IS में शामिल हुए थे, अब अफगानिस्तान जेल हमले में आ रहा नाम

पूर्वी अफगानिस्तान (East Afghanistan) के नंगरहार प्रांत की राजधानी जलालाबाद (Jalalabad) में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों के साथ घंटों तक चली मुठभेड़ के बाद सेना ने एक जेल को अपने नियंत्रण में ले लिया था.

पूर्वी अफगानिस्तान (East Afghanistan) के नंगरहार प्रांत की राजधानी जलालाबाद (Jalalabad) में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों के साथ घंटों तक चली मुठभेड़ के बाद सेना ने एक जेल को अपने नियंत्रण में ले लिया था.

पूर्वी अफगानिस्तान (East Afghanistan) के नंगरहार प्रांत की राजधानी जलालाबाद (Jalalabad) में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों के साथ घंटों तक चली मुठभेड़ के बाद सेना ने एक जेल को अपने नियंत्रण में ले लिया था.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पूर्वी अफगानिस्तान (East Afghanistan) के नंगरहार प्रांत  (Nangarhar) की राजधानी जलालाबाद (Jalalabad) में हुए जेल के हमले में एक भारतीय नागरिक का हाथ होने की आशंका जाहिर की गई है. यह शख्स इस्लामिक स्टेट में शामिल हो चुका था. इंटेलिजेंस एजेंसियों के मुताबिक इस हमले में शामिल इस्लामिक स्टेट के सदस्यों में से एक की पहचान हो गई है. दावा किया गया कि यह शख्स केरल के कासरगोड का एजास केट्टीयापुरायिल है. सूत्रों ने कहा कि इसके परिवार के लोगों ने एजाल को  तस्वीरों से पहचान लिया था. वहीं सूत्रों ने कहा कि अभी इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

    पेशे से डॉक्टर एजास ने  साल 2016 में अपनी पत्नी रहीला और दो साल के बच्चे के साथ इस्लामिक स्टेट जॉइन किया था. साथ ही उसका भाई शिहाज़ अपनी पत्नी अजमाला के साथ आईएस में शामिल हुआ था. इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार सूत्रों ने कहा कि वे इस्लामिक स्टेट के कासरगोड मॉड्यूल का हिस्सा थे जो उस साल मई-जून में कासरगोड से लापता होने के बाद 2016 में अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत में चला गया था. एक सूत्र ने बताया कि अफगानिस्तान पहुंचने के बाद भी एजास परिवार के संपर्क में था, बताया जाता है कि एजास और शिहाज ने दो बच्चों के जन्म की खबर घर पर बताई थी.

    'हमने पहले ही मरा मान लिया था'
    एक करीबी रिश्तेदार ने कहा, 'परिवार ने दोनों बेटों को पहले ही खत्म मान लिया था. इससे पहले अफवाह उड़ी थी कि अफगानिस्तान में युवकों की मौत हो चुकी है. हम इस पर बहुत ज्यादा नहीं सोच रहे हैं  क्योंकि हमने मान लिया था कि वे बहुत पहले मर चुके हैं.'

    बता दें जलालाबाद में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों ने जेल पर हमला कर दिया था. इस्लामिक स्टेट के हमले में अब तक हमलावरों समेत 39 लोग मारे जा चुके हैं. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. माना जा रहा है कि इस जेल में आईएस के सैकड़ों कैदी हैं और हमलावर करीब 400 कैदियों को आजाद कराने में सफल रहे. इस हमले से अफगानिस्तान के समक्ष आने वाले चुनौतियों का संकेत मिलता है. अमेरिका द्वारा तालिबान के साथ शांति संधि करने के बाद अमेरिका और नाटो के सैनिक वापस जाने लगे हैं.

    रविवार को तब हमला शुरू हुआ था जब इस्लामिक स्टेट के एक आत्मघाती बम हमलावर विस्फोटक से लदा एक वाहन लेकर जेल के गेट पर पहुंचा और उससे धमाका कर दिया. इसी बीच इस्लामिक स्टेट के दूसरे आतंकवादी गोलियां चलाने लगे और अंदर घुस गये.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज