केरल: कोट्टायम में हुई भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया कई जिलों में यलो अलर्ट

कोट्टायम जिले में गुरुवार सुबह भारी बारिश हुई. (फोटो: ANI)

Rainfall in Kerala: CM पिनराई विजयन ने फिशिंग गतिविधियों को रद्द करने के आदेश जारी किए हैं. सीएम ने कहा, 'मौसम विभाग ने अरब सागर के ऊपर कम दबाव वाले क्षेत्र को लेकर चेतावनी दी है, जो बाद में चक्रवाती तूफान बन सकता है. हालांकि, केरल इसके रास्ते में नहीं है.'

  • Share this:
    कोट्टायम. अरब सागर (Arabian Sea) में चक्रवात की खबरों के बीच केरल के कोट्टायम जिले (Kottayam) में गुरुवार सुबह भारी बारिश हुई. साथ ही मौसम विभाग (IMD) ने आगामी 15 मई तक केरल में भारी बारिश का अनुमान लगाया है. हालात इतने बिगड़ गए हैं कि विभाग को राज्य के कुछ जिलों में यलो अलर्ट की घोषणा करनी पड़ी. मौसम जानकारों की तरफ से कहा जा रहा है कि इस बार अरब सागर में साल का पहला चक्रवात बन सकता है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, 16 मई को दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना जताई जा रही है.

    केरल के कुछ जिलों में 'यलो अलर्ट' जारी कर दिया है. इसके मतलब है कि जिम्मेदारों को हालात के मद्देनजर 'सतर्क' रहने के लिए कहा गया है. साथ ही यह दिखाता है कि इस दौरान कई मुश्किल हालात भी तैयार हो सकते हैं और लगातार बदल रहे मौसम को लेकर नागरिकों को जागरूक किए जाने की जरूरत है. स्काइमेट वेदर के अनुसार, बीते 24 घंटों में दक्षिण भारतीय राज्य केरल में बारिश दर्ज की गई है.

    Weather Update: Delhi NCR में बदला मौसम का मिजाज, कुछ इलाकों में गरज के साथ शुरू हुई बूंदाबांदी

    समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, अधिकारियों ने बताया कि अरब सागर के ऊपर तैयार हो रहे चक्रवात को लेकर भारतीय तट रक्षकों ने मत्स्य विभाग को एडवाइजरी जारी की है. इसमें मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने और नजदीकी बंदरगाह पर लौटने की सलाह दी है. मौसम विभाग के अनुसार, अरब सागर के ऊपर कम दबाव वाला क्षेत्र तैयार हो रहा है, जो धीरे-धीरे मध्य-पूर्वी अरब सागर में 16 मई तक चक्रवात में बदल सकता है.

    एजेंसी के मुताबिक, यह चक्रवात कई इलाकों को प्रभावित कर सकता है. इनमें केरल, कर्नाटक, लक्षद्वीप, गोवा और महाराष्ट्र के तट शामिल हैं. इधर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने फिशिंग गतिविधियों को रद्द करने के आदेश जारी किए हैं. एएनआई के अनुसार, सीएम ने कहा 'मौसम विभाग ने अरब सागर के ऊपर कम दबाव वाले क्षेत्र को लेकर चेतावनी दी है, जो बाद में चक्रवाती तूफान बन सकता है. हालांकि, केरल इसके रास्ते में नहीं है.'

    उन्होंने कहा, '14 और 15 मई को भारी बारिश होने की संभावना है. केरल स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (KSDMA) ने तैयारियों को लेकर सेना, नौसेना, वायुसेना, तट रक्षक और एनडीआरएफ के साथ बैठक की है. फिशिंग से जुड़े कामों को फिलहाल रद्द कर दिया गया है.'