अपना शहर चुनें

States

Delhi Traffic: किसान आंदोलन के चलते बंद हैं ये रास्ते, Delhi Traffic Police ने बताया किन रास्तों का करें इस्तेमाल

Kisaan Aandolan के चलते चिल्ला बॉर्डर से लोगों को आने जाने में दिक्कत हो सकती है.
Kisaan Aandolan के चलते चिल्ला बॉर्डर से लोगों को आने जाने में दिक्कत हो सकती है.

तीन कृषि कानूनों (Farm Bills) के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली पहुंचे किसानों के आंदोलन का बुधवार को छठा दिन है. सरकार बातचीत बेनतीजा होने के बाद किसान आंदोलन (Farmers Protest) को और तेज करने की तैयारी में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2020, 5:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र की मोदी सरकार द्वारा पास किए गए तीन कृषि कानूनों (New Agriculture Law) के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली पहुंचे किसानों के आंदोलन का बुधवार को छठा दिन है. मंगलवार को बातचीत से कोई निष्कर्ष ना निकलने के बाद किसान आंदोलन (Farmers Protest) को और तेज करने की तैयारी में हैं. किसान आज दिल्ली और उत्तर प्रदेश की सीमा स्थित चिल्ला बॉर्डर पर धरना दे रहे हैं. जिसकी वजह से दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR Traffic News)की ओर आमदरफ्त करने वालों के लिए दिक्कत बढ़ सकती है.

आइए हम आपको बताते हैं राष्ट्रीय राजधानी और उससे सटे इलाकों के कौन-कौन से रास्ते बंद हैं और कहां का रूट बदला गया है-

किसानों के विरोध के कारण यातायात बंद
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एक ट्वीट में कहा- नोएडा लिंक रोड पर चिल्ला बॉर्डर गौतम बुद्धनगर के गेट का रास्ता किसानों के विरोध के कारण यातायात बंद है. लोगों को नोएडा जाने के लिए नोएडा लिंक रोड से बचने और नोएडा के बजाय NH 24 और DND का उपयोग करने की सलाह दी जाती है.बताया गया कि टिकरी बॉर्डर, झाड़ौदा बॉर्डर, झटिकरा बॉर्डर किसी भी ट्रैफिक मूवमेंट के लिए बंद है वही बडूसराय बार्डर केवल दो पहिया वाहनों के लिए खुला है.



जानकारी दी गई कि हरियाणा जाने के लिए धनसा, दौराला, कपासेरा, राजोखरी एनएच 8, बिजवासन / बजघेरा, पालम विहार और डूंडाहेड़ा के बॉर्डर खुले हुए हैं बताया गया कि सिंघू सीमा अभी भी दोनों ओर से बंद है. साथ ही लामपुर, औचंदी और अन्य छोटी सीमाएं भी बंद हो गईं. पुलिस ने बताया कि मुकरबा चौक और जीटीके रोड से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया है.

पुलिस ने लोगों को सिग्नेचर ब्रिज से रोहिणी और इसके उलट जीटीके रोड, एनएच 44 और सिंघू, औचंदी और लामपुर सीमा तक बाहरी रिंग रोड से बचने की सलाह दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज