LIVE NOW

Kisan Andolan Live Updates: कृषि कानून रद्द करने की मांग पर डटे किसान, रेल रोको आंदोलन को बताया सफल

केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने बृहस्पतिवार को चार घंटे के अपने राष्ट्रव्यापी रेल रोको आह्वान को 'शांतिपूर्ण और सफल’ बताया. किसान आंदोलन के लाइव अपडेट्स पढ़ने के लिए पेज को रिफ्रेश करते रहे

Hindi.news18.com | February 19, 2021, 10:09 AM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated February 19, 2021
10:09 am (IST)

उन्होंने कहा कि अधिकतर जोनल रेलवे ने प्रदर्शन के कारण किसी भी घटना की सूचना नहीं दी है. प्रवक्ता ने कहा, ‘रेल रोको आंदोलन बिना किसी अप्रिय घटना के समाप्त हो गया. देश भर में ट्रेनों की आवाजाही पर मामूली या न्यूनतम प्रभाव पड़ा. सभी जोन में ट्रेनों की आवाजाही अब सामान्य है.' उन्होंने कहा कि रेल रोको आंदोलन के दौरान सभी संबंधितों पक्षों द्वारा अत्यंत संयम का परिचय दिया गया.

10:08 am (IST)

बयान में उनके हवाले से कहा गया है, 'किसानों का आंदोलन सफल होगा और (नरेंद्र) मोदी सरकार की मंशा को नाकाम किया जाएगा.' पहले दिन में भारतीय रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि प्रदर्शनकारी किसानों के 'रेल रोको' आह्वान का ट्रेन सेवाओं पर मामूली प्रभाव पड़ा.

 

10:08 am (IST)

बयान में कहा गया है, ‘किसानों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है और केंद्र को कानूनों को वापस लेना होगा.’ एसकेएम सदस्य जगमोहन सिंह ने कहा कि देश के लोगों के अनूठे समर्थन और चतुर्दिक सक्रियता ने आंदोलन को और मजबूत किया है.

10:08 am (IST)
हालांकि, रेलवे ने कहा कि किसानों के 'रेल रोको' आंदोलन के कारण ट्रेन सेवाओं पर नगण्य या बहुत कम प्रभाव पड़ा. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा, ‘यह एक शांतिपूर्ण और सफल आयोजन था... बड़ी संख्या में भारत के नागरिकों ने किसानों के आंदोलन के प्रति केंद्र के रवैये का विरोध किया है.’

10:07 am (IST)

नए कृषि कानूनों के विरोध में विभिन्न किसान संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के परचम तले आंदोलन कर रहे हैं. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि केंद्र को कृषि कानूनों को वापस लेना होगा क्योंकि ‘‘देश भर में किसानों का गुस्सा बढ़ रहा है.’’ संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बयान में दावा किया कि बृहस्पतिवार को देश भर में सैकड़ों स्थानों पर दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक ट्रेनों को रोका गया.

10:07 am (IST)
केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने बृहस्पतिवार को चार घंटे के अपने राष्ट्रव्यापी रेल रोको आह्वान को 'शांतिपूर्ण और सफल’ बताया

LOAD MORE
नई दिल्ली. केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने बृहस्पतिवार को चार घंटे के अपने राष्ट्रव्यापी रेल रोको आह्वान को 'शांतिपूर्ण और सफल’ बताया. नए कृषि कानूनों के विरोध में विभिन्न किसान संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के परचम तले आंदोलन कर रहे हैं. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि केंद्र को कृषि कानूनों को वापस लेना होगा क्योंकि ‘‘देश भर में किसानों का गुस्सा बढ़ रहा है.’’ संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बयान में दावा किया कि बृहस्पतिवार को देश भर में सैकड़ों स्थानों पर दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे तक ट्रेनों को रोका गया.

हालांकि, रेलवे ने कहा कि किसानों के 'रेल रोको' आंदोलन के कारण ट्रेन सेवाओं पर नगण्य या बहुत कम प्रभाव पड़ा. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा, ‘यह एक शांतिपूर्ण और सफल आयोजन था... बड़ी संख्या में भारत के नागरिकों ने किसानों के आंदोलन के प्रति केंद्र के रवैये का विरोध किया है.’

किसान आंदोलन के लाइव अपडेट्स पढ़ने के लिए पेज को रिफ्रेश करते रहे

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज