Assembly Banner 2021

चूरू में कांग्रेस की किसान महापंचायत आज, 2 साल बाद एक ही हेलिकॉप्टर से जाएंगे CM गहलोत और सचिन पायलट

मौजूदा सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot). फाइल फोटो.

मौजूदा सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot). फाइल फोटो.

राजस्थान में चार विधानसभा पर होने वाले उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच दूरियां मिटाने की कवायद शुरू हो गई है. यही वजह है कि दो महीने बाद आज गहलोत के साथ पायलट हेलीकॉप्टर में सवार होंगे और दोनों चूरू में होने वाली किसान महापंचायत में शिरकत करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 1:25 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान कांग्रेस शनिवार को मातृकुंडिया और बीदासर के पास पिलानिया की ढाणी में किसान महापंचायत करने जा रही है. इसे कांग्रेस की तरफ से उपचुनाव के प्रचार का आगाज माना जा रहा है. किसान सम्मेलन की सबसे खास बात ये है कि करीब दो साल बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट एक ही हेलिकॉप्टर से किसी सभा में पहुंचेंगे.

पायलट जयपुर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ हेलिकॉप्टर से 11.30 बजे बीदासर के पास पिलानिया की ढाणी में किसान सम्मेलन में पहुंचेंगे. इसके बाद दोपहर 2 बजे चित्तौड़गढ़ के मातृकुंडिया में किसान सम्मेलन में हिस्सा लेंगे. इससे पहले लोकसभा चुनावों में ये दोनों नेता एक साथ एक हेलिकॉप्टर में नजर आए थे. सचिन पायलट की बगावत के बाद प्रदेश के इन दोनों नेताओं के संबंधों में कड़वाहट बढ़ गई थी.

Youtube Video




हाल ही में हुई किसान महापंचायतों और राहुल गांधी की सभा में पायलट को मंच पर उचित जगह नहीं मिलने के विवाद के बाद दोनों नेताओं के बीच सियासी कड़वाहट बढ़ने की चर्चाएं गर्म थीं. इस बीच प्रभारी अजय माकन और पायलट की दिल्ली में मुलाकात हुई. सुप्रीम कोर्ट से पायलट सहित 19 विधायकों को अयोग्य ठहराने की याचिका वापस लेने का फैसला हुआ है. अब हेलिकॉप्टर के इस सफर को दोनों नेताओं के बीच नई शुरुआत के रूप में देखा जा रहा है.

उपचुनाव से पहले किसानों को साधने की कोशिश


गौरतलब है कि प्रदेश की चार सीटों वल्लभनगर, राजसमंद, सहाड़ा और सुजानगढ़ के लिए जल्द ही विधानसभा उपचुनाव होने हैं. उपचुनाव में ये दोनों नेता कैंपेन करते नजर आएंगे. हालांकि कांग्रेस ने इन सभाओं को किसान सम्मेलन नाम दिया है, लेकिन इन सभाओं के जरिए कांग्रेस अपनी चुनावी क्षेत्रों को भी साधेगी. इसके साथ ही किसानों के किसान आंदोलन को समर्थन भी देंगे.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सचिन पायलट के अलावा प्रदेश प्रभारी अजय माकन, प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा सहित कांग्रेस के सभी बड़े नेता मौजूद रहेंगे. मातृकुंडिया की सभा में भीलवाडा, राजसमंद और उदयपुर के किसानों को बुलाया गया है और इसके जरिए इस इलाके इन तीनों क्षेत्रों सहाडा, राजसमंद और वल्लभनगर के मतदाताओं तक पहुंचने का प्रयास किया जाएगा. इस सभा में करीब 1 लाख किसानों को इकट्ठा करने का लक्ष्य रखा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज