होम /न्यूज /राष्ट्र /Republic Day Violence: ट्रैक्टर रैली में हिंसा और लाल किले पर बवाल का आरोपी हो गया दीप सिद्धू गायब?

Republic Day Violence: ट्रैक्टर रैली में हिंसा और लाल किले पर बवाल का आरोपी हो गया दीप सिद्धू गायब?

गणतंत्र दिवस पर दिल्‍ली में हुई हिंसा के मुख्‍य आरोपी दीप सिद्धू को अभी पुलिस ने पकड़ सकी है. 
 (फाइल फोटो)

गणतंत्र दिवस पर दिल्‍ली में हुई हिंसा के मुख्‍य आरोपी दीप सिद्धू को अभी पुलिस ने पकड़ सकी है. (फाइल फोटो)

Republic Day Violence: किसान आंदोलन से जुड़े कुछ वीडियो वायरल होने के बाद लोगों की नजर में आए दीप सिद्धू को दिल्ली में ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में हुई हिंसा और लाल किले पर एक धार्मिक ध्वज लहराये जाने का मुख्य आरोपी दीप सिद्धू (Deep Sidhu) लापता बताया जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अभिनेता से एक्टिविस्ट बने दीप सिद्धू, पुलिस और किसान नेताओं के सामने से गायब हो गया है.

    बुधवार को सिद्धू के दो वीडियो सामने आए थे, जिसमें वह एक मोटरबाइक से भागता दिख रहा है. संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के पदाधिकारी सिद्धू को खलनायक के रूप में पेश कर रहे हैं. यहां तक कि उसे RSS का एजेंट भी कह रहे हैं. 10 दिसंबर को सिद्धू ने किसानों यूनियनों के 'हां या नहीं' वाले रुख से हटने की वकालत करते हुए कहा था कि राजनीतिक कूटनीति का रास्ता बंद नहीं होना चाहिए.

    " isDesktop="true" id="3435405" >

    वीडियो वायरल होने के बाद लोगों की नजर में आए सिद्धू
    सिद्धू जनता की नजरों में तब आए थे जब कुछ महीनों पहले किसानों का आंदोलन जोर पकड़ रहा था. अक्टूबर के पहले हफ्ते, उन्होंने पटियाला में शंभू बैरियर - पंजाब और हरियाणा के बीच सीमा पर मोर्चा शुरू किया. इसके बाद कुछ वीडियो वायरल हुए जिसके बाद सोशल मीडिया पर उसके फैन्स बन गए. इनमें से कई समर्थक मंगलवार की घटना  के बाद भी सिद्धू के साथ खड़े हैं. उनका कहना है कि सिद्धू को  मीडिया और किसानों की यूनियनों द्वारा बलि का बकरा बनाया जा रहा है.

    सिद्धू और यूनियनों के बीच हमेशा कुछ तनातनी थी. ऐसा लगता है कि पिछले दो महीनों में यह तनातनी कम नहीं हुई बल्कि बढ़ी. 10 दिसंबर को एक फेकबुक लाइव में सिद्धू ने 'कम्युनिस्ट यूनियनों' पर आरोप लगाया कि वह इसके जरिए से वाम राजनीति को आगे बढ़ाने के एजेंडे पर काम कर रहे हैं. हालांकि ट्रोल होने के बाद उन्होंने अगले दिन माफी मांगी. उस वक्त उन पर आरोप लगा कि वह आंदोलन को कमजोर कर रहे हैं.

    दिल्ली पुलिस ने की है एफआईआर
    बता दें दिल्ली पुलिस ने लाल किले पर हुई हिंसा के सिलसिले में दर्ज प्राथमिकी में अभिनेता दीप सिद्धू और ‘गैंगस्टर’ से सामाजिक कार्यकर्ता बने लक्खा सिधाना के नाम लिए हैं. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस ने IPC, सार्वजनिक संपत्ति को क्षति से रोकथाम अधिनियम और अन्य कानूनों की प्रासंगिक धाराओं के तहत उत्तरी जिले के कोतवाली थाने में मामला दर्ज किया है .

    प्राथमिकी में प्राचीन स्मारकों और पुरातात्विक स्थलों और अवशेष अधिनियम तथा शस्त्र अधिनियम के प्रावधानों को भी जोड़ा गया है. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) की ओर से जारी आदेश के मुताबिक लाल किला 27 जनवरी से 31 जनवरी तक आगंतुकों के लिए बंद रहेगा.

    Tags: Farm laws, Kisan Andolan, Lal Qila, Punjab news, हरियाणा

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें