• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 21 महीने केंद्रीय मंत्री रहे ये सांसद, आज पहली बार मिला राज्यसभा में बोलने का मौका

21 महीने केंद्रीय मंत्री रहे ये सांसद, आज पहली बार मिला राज्यसभा में बोलने का मौका

उन्होंने जैसे ही कहा कि यह मेरा पहला भाषण है तो सदन में मौजूद सभी सांसदों ने टेबल बजाकर उनका स्वागत किया.

उन्होंने जैसे ही कहा कि यह मेरा पहला भाषण है तो सदन में मौजूद सभी सांसदों ने टेबल बजाकर उनका स्वागत किया.

उन्होंने जैसे ही कहा कि यह मेरा पहला भाषण है तो सदन में मौजूद सभी सांसदों ने टेबल बजाकर उनका स्वागत किया.

  • Share this:
    राज्यसभा में बुधवार को मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में पर्यटन मंत्री रहे केजे अल्फोंस ने राष्ट्रपति अभिभाषण पर हो रही चर्चा में भाग लेते हुए दावा किया कि पूर्व प्रधानमंत्रियों की तुलना में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहीं ज्यादा लोकतांत्रिक हैं.

    मोदी सरकार में ज़्यादा सुरक्षित हैं अल्पसंख्यक
    उन्होंने कहा पांच साल पहले कहा जाता था कि भाजपा सत्ता में आई तो ईसाइयों को बख्शा नहीं जाएगा और उनके चर्च जला दिए जाएंगे. आज भाजपा के सत्ता में आने के बाद क्या आपने किसी ईसाई को पिटते हुए देखा या किसी चर्च को जलाया गया. अल्पसंख्यक पहले कभी इतने सुरक्षित नहीं थे जितने सुरक्षित वे मोदी सरकार के समय में हैं.

    अल्फोंस ने कहा कि हमें भारत की उपलब्धियों का जश्न जरूर मनाना चाहिए क्योंकि आज देश की 99.2 फीसदी आबादी के पास शौचालय की सुविधा है, 35 करोड़ लोगों के पास बैंक खाते हैं, 7.5 करोड़ लोगों को गैस के कनेक्शन मिल चुके हैं, 19 करोड़ लोगों को मुद्रा ऋण योजना के तहत लोन मिला है और ‘कारोबार करने की सुगमता’ की वजह से कारोबार रैंकिग में भारत की स्थिति बेहतर हो गई.

    गुलाम नबी से पूछा- हमें क्यों नया भारत नहीं चाहिए
    उन्होंने कहा विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने बहस के दौरान कहा कि हमें नया भारत (न्यू इंडिया) नहीं चाहिए. मेरा सवाल है कि हमें क्यों नया भारत नहीं चाहिए. आज पूरे विश्व में भारत अपना एक खास और गौरवपूर्ण स्थान रखता है.

    पहली बार मिला बोलने का मौका
    राष्ट्रपति के अभिभाषण पर हो रही चर्चा में भाग लेते हुए अल्फोंस ने यह भी खुलासा किया कि वह सदन में पहली बार बोल रहे हैं. अल्फोंस ने कहा कि भले ही मैं 21 महीने पर्यटन मंत्री रहा लेकिन मुझे कभी बोलने का मौका नहीं मिला. न तो इससे पहले कोई स्टेटमेंट देने का मौका आया और न ही मुझे किसी सवाल का जवाब देने का अवसर मिला. अल्फोंस ने जैसे ही कहा कि यह मेरा पहला भाषण है तो सदन में मौजूद सभी सांसदों ने टेबल बजाकर उनका स्वागत किया.

    ये भी पढ़ें-
    पीएम मोदी क्यों बोले- झारखंड में ‘सज्जनों' की भरमार

    वन नेशन-वन इलेक्शन से पहले बने एक वोटर लिस्ट: पीएम मोदी

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज