Home /News /nation /

जानिए कौन है उमर खालिद जो हमेशा विवादों में रहता है!

जानिए कौन है उमर खालिद जो हमेशा विवादों में रहता है!

कौन है उमर खालिद ?

कौन है उमर खालिद ?

उमर खालिद और उनके साथियों पर साल 2016 में देशद्रोह का मुकदमा भी दर्ज किया गया था. बीती 9 जून को ही उमर ने दिल्ली पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्हें जान से मारने की धमकियां दी जा रहीं हैं.

    जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के छात्र उमर खालिद एक बार फिर चर्चा में हैं. सोमवार दोपहर नई दिल्ली के कॉन्स्टीट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया के बाहर एक अज्ञात व्यक्ति ने उन पर जानलेवा हमला किया. उमर पर गोली चलाई गई जिससे वे बाल-बाल बच गए. उमर खालिद और उनके साथियों पर साल 2016 में देशद्रोह का मुकदमा भी दर्ज किया गया था. बीती 9 जून को ही उमर ने दिल्ली पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्हें जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं.

    कौन हैं उमर खालिद
    करीब तीन दशक पहले खालिद का परिवार महाराष्ट्र के अमरावती के तालेगांव से दिल्ली आया था. उमर खालिद अपने परिवार के साथ जाकिरनगर में रहते हैं. जानकारी के मुताबिक खालिद के पिता सैयद कासिम रसूल इलियास दिल्ली में ही ऊर्दू की मैगजिन ‘अफकार-ए-मिल्ली’ चलाते हैं. उमर खालिद जेएनयू में स्कूल ऑफ सोशल साइंस से इतिहास में पीएचडी कर रहे हैं. इससे पहले वह हिस्ट्री में एमए और एमफिल कर चुके हैं. खालिद जेएनयू में डीएसयू (डेमोक्रेटिक स्टूडेंट यूनियन) से जुड़े रहे हैं जिसे प्रतिबंधित सीपीआई माओवादी पार्टी का समर्थक माना जाता है.

    9 फरवरी 2016 को देश विरोधी और आतंकी अफज़ल गुरु के समर्थन में नारे लगाने के आरोप में उमर खालिद, कन्हैया कुमार और अनिर्बान के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दायर किया गया था. इन तीनों की गिरफ्तारी भी हुई लेकिन बाद में कोर्ट से जमानत मिल गई. इस केस में अभी जांच जारी है पुलिस बीते दो साल में भी चार्जशीट तक दाखिल नहीं कर पाई है. कश्मीरी आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद भी उमर ने फेसबुक पर एक विवादित पोस्ट लिखी थी जिसमें उसकी तुलना क्रांतिकारी नेता चे ग्वेरा से की गई थी.

    कई विवादों में आया नाम
    उमर खालिद का नाम जेएनयू कैंपस में हिंदू देवी देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें लगाकर नफरत पैदा करने के मामले में भी सामने आया था. इसके आलावा उमर खालिद उस समारोह में भी शामिल था जब आतंकी अफजल गुरु की फांसी को गैरकानूनी बताया गया था. बताया जाता है कि साल 2010 में छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में सीआरपीएफ जवानों की हत्या के बाद भी उमर खालिद और उसके साथियों ने एक कार्यक्रम किया था जिसके बाद काफी बवाल हुआ था. 26 जनवरी, 2015 को 'इंटरनेशनल फूड फेस्टिवल' के दौरान कश्मीर को अलग देश दिखाने के मामले में भी खालिद का ही नाम सामने आया था.

    Tags: Delhi, Jnu

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर