Home /News /nation /

उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने बताया, कैसे बढ़ाई जा सकती है किसानों की आमदनी?

उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने बताया, कैसे बढ़ाई जा सकती है किसानों की आमदनी?

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने अलग-अलग स्रोतों के जरिये किसानों की आमदनी बढ़ाने पर जोर दिया.

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने अलग-अलग स्रोतों के जरिये किसानों की आमदनी बढ़ाने पर जोर दिया.

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू (M. Venkaiah Naidu) ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार के मौके (Employment Opportunities) पैदा करने के लिए कृषि आधारित उद्योगों को बढ़ावा देने की जरूरत है. कोविड-19 महामारी के दौरान शहरों से गावों की तरफ लौटे प्रवासी श्रमिकों (Migrant Laborer) का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में उद्यमिता का विकास देश की अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को भी मजबूत करेगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार (Modi Government) शुरुआत से ही किसानों की आमदनी को दोगुना (Farmers’ Income) करने की बात कह रही है. इसी क्रम में उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू (M. Venkaiah Naidu) ने आज किसानों की आय बढ़ाने के साथ ही खाद्य सुरक्षा (Food Security) को सुनिश्चित करने का तरीका बताया. उन्‍होंने कहा कि कृषि और खाद्य प्रबंधन क्षेत्र में तकनीक के ज्‍यादा से ज्‍यादा इस्‍तेमाल (Greater Use of Technology) से खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित होने के साथ ही किसानों की आय बढ़ाने में भी मदद मिलेगी.

    उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को डॉ. राजेंद्र प्रसाद कृषि विश्वविद्यालय, पूसा के दूसरे वार्षिक दीक्षांत समारोह में कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार के मौके पैदा करने के लिए कृषि आधारित उद्योगों को बढ़ावा देने की जरूरत है. कोविड-19 महामारी के दौरान शहरों से गावों की तरफ लौटे प्रवासी श्रमिकों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में उद्यमिता का विकास देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूत करेगा. किसानों के कृषि उत्पाद संगठन ( FPO) सीमांत और छोटे किसानों के लिए कारगर साबित हो सकते हैं. वे खाद्य आपूर्ति श्रृंखला के बीच की कड़ी बन सकते हैं. एफपीओ कच्चे माल की आपूर्ति से लेकर फूड प्रॉसेसिंग, मार्केटिंग और एक्‍सपोर्ट जैसी कड़ियों को जोड़ते हैं.

    ये भी पढ़ें- Bank Holidays: नवंबर 2021 के दूसरे हफ्ते में 5 दिन बंद रहेंगे बैंक, ब्रांच जाने से पहले देखें छुट्टियों की पूरी लिस्‍ट

    ‘किसानों की आमदनी अलग-अलग स्रोतों से बढ़ाना जरूरी’
    नायडू ने कहा कि विश्वविद्यालयों को अपने क्षेत्र के किसानों को कृषि सहकारी संगठन बनाने के लिए प्रोत्साहित करना होगा. भारत में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में बड़ी संभावनाएं हैं. लिहाजा, विश्वविद्यालयों को किसानों को संगठन बनाने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए. उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में ज्‍यादातर सीमांत और छोटे किसानों के पास संसाधन कम हैं. ऐसे में अलग-अलग स्रोतों से किसानों की आमदनी बढ़ाने की जरूरत है.

    ये भी पढ़ें- SBI ग्राहकों को मुफ्त में दे रहा है 2 लाख रुपये का सीधा फायदा, जानें कैसे उठाएं योजना का लाभ?

    ‘कृषि क्षेत्र में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्‍तेमाल बढ़ाएं’
    उपराष्‍ट्रपति नायडू ने खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए खाद्य प्रबंधन में टेक्नोलॉजी का ज्‍यादा से ज्‍यादा इस्‍तेमाल करने पर जोर दिया. उन्‍होंने कहा कि विकसित देश एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के इस्‍तेमाल का पूरा फायदा ले रहे हैं. ऐसे में भारत को भी कृषि क्षेत्र में आमदनी बढ़ाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से फायदा लेना चाहिए. उन्होंने कोरोना संकट के बीच देश में अनाज का रिकार्ड उत्पादन करने के लिए किसानों की तारीफ की. उन्‍होंने कहा कि साल 2013-14 के बाद यह पहली बार है, जब कृषि क्षेत्र ने अर्थव्यवस्था में बड़ा योगदान दिया है.

    Tags: Artificial Intelligence, Farmer Income Doubled, Food safety Act, India agriculture, M. Venkaiah Naidu, Venkaiah Naidu

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर