PM नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रियों ने राष्ट्रपति को सौंपा इस्तीफा

नरेंद्र मोदी 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. इसके पहले मोदी वाराणसी और गुजरात का दौरा करेंगे. पीएम का 28 मई को वाराणसी जाने का कार्यक्रम तय है.

News18Hindi
Updated: May 25, 2019, 11:45 AM IST
News18Hindi
Updated: May 25, 2019, 11:45 AM IST
लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के नतीजों के बाद शुक्रवार शाम नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. उनके साथ ही सभी मंत्रिपरिषद सदस्यों ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को अपना इस्तीफा सौंपा. राष्ट्रपति ने इस्तीफा स्वीकार करते हुए सभी से नई सरकार के गठन तक कामकाज संभालने का आग्रह किया, जिसे पीएम ने स्वीकार कर लिया. अब वह शपथ लेने तक कार्यवाहक पीएम के तौर पर जिम्मेदारियां संभालेंगे.

इससे पहले नई दिल्ली में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई. इसमें कैबिनेट ने 16वीं लोकसभा भंग करने का प्रस्ताव पारित कर दिया था. मोदी के इस्तीफे के बाद अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 16वीं लोकसभा को भंग करेंगे. फिर सबसे बड़े दल के तौर पर बीजेपी को नई सरकार बनाने का न्योता देंगे. बता दें कि बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए ने 353 लोकसभा सीटों पर ऐतिहासिक जीत हासिल की है.



दरअसल, 16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून 2019 को पूरा हो रहा है. इससे पहले नई सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरू करना जरूरी है. अगले एक-दो दिन में तीनों चुनाव आयुक्त राष्ट्रपति से मुलाकात कर नवनिर्वाचित सांसदों की सूची सौंप देंगे. CNN-News18 की खबर के मुताबिक, नरेंद्र मोदी 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. इसके पहले मोदी वाराणसी और गुजरात का दौरा करेंगे. पीएम का 28 मई को वाराणसी जाने का कार्यक्रम तय है.

पीएम के इस्तीफा सौंपने की जानकारी देते हुए राष्ट्रपति के ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा, इस सत्र का सूर्य अस्त होने को है, लेकिन हमारे काम की चमक करोड़ों लोगों के जीवन को रोशन करती रहेगी.


पीएमओ स्टाफ से भी की मुलाकात

मोदी ने शुक्रवार शाम प्रधानमंत्री कार्यालय के स्टाफ से भी मुलाकात की. साथ ही उन्हें पांच साल की मेहनत और लगन के लिए धन्यवाद दिया. उन्होंने स्टाफ से जनभावनाओं के अनुकूल पहले से ज्यादा लगन से काम करने को कहा. इस दौरान लोकसभा चुनावों में जीत पर प्रमुख सचिव नृपेंद्र मिश्रा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, अतिरिक्त प्रमुख सचिव पीके मिश्रा और सचिव भास्कर खुल्वे सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका अभिवादन भी किया.

बीजेपी ने तेज की सरकार बनाने की तैयारी
Loading...

लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद जहां बीजेपी सरकार बनाने की तैयारियों में है. वहीं, कांग्रेस में इस्तीफे का दौर शुरू हो गया है. करारी शिकस्त के बाद यूपी के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर, कर्नाटक प्रदेश अध्यक्ष एचके पाटिल और ओडिशा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष निरंजन पटनायक ने अपना इस्तीफा आलाकमान को भेज दिया है. वहीं, अमेठी के जिला अध्यक्ष ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.

अब तक एनडीए को 351 सीटें
अब तक के नतीजों में बीजेपी की अगुआई वाले एनडीए ने 353 सीटों पर ऐतिहासिक जीत हासिल की है. वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस 52 सीटों पर जीत दर्ज कर पाई. सहयोगियों को मिलाकर यूपीए के हिस्से में 92 सीटें आई हैं, जबकि अन्य दलों के खाते में 97 सीटें आईं. बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में मायावती-अखिलेश यादव के महागठबंधन को फेल कर दिया और 80 में 62 सीटें जीत लीं, जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी अमेठी सीट भी नहीं बचा पाए. सोनिया गांधी को रायबरेली में जीत मिली.

ये भी पढ़ें:

लोकसभा चुनाव 2019: जो बीजेपी के 39 साल के इतिहास में कभी नहीं हुआ, मोदी-शाह ने कर दिखाया वो करिश्मा

ANALYSIS: यह मोदी का अपना वोट बैंक!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...