कोरोना के डर से नवजात को किसी ने नहीं लगाया हाथ, नर्स ने पिलाया अपना दूध

कोरोना के डर से नवजात को किसी ने नहीं लगाया हाथ, नर्स ने पिलाया अपना दूध
कोलकाता में नर्स ने पेश की मिसाल

कोलकाता (Kolkata) के एक अस्पताल में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के डर के कारण किसी भी महिला ने नवजात को हाथ नहीं लगाया. तब वहां मौजूद नर्स ने बच्चे को पिलाया अपना दूध.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में कोलकाता (Kolkata) के आरजी कर मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के लेबर पोस्ट ऑपरेटिव वॉर्ड (LPOW) में मौजूद किसी भी महिला ने बच्चे को कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के डर के कारण हाथ नहीं लगाया. तब वहां काम कर रही एक नर्स ने नवजात को बिलखता देख उसे अपना दूध पिला कोरोना संकट के समय सभी के सामने मिसाल पेश की. दरअसल बच्चे की मां की सिजेरियन डिलीवरी हुई थी और इसलिए वह बच्चे को दूध नहीं पिला सकती थी. नर्स ने बताया कि कुछ ही समय पहले उसकी भी डिलीवरी हुई थी. बच्चे को को भूख से बिलखता देख उससे रहा नहीं गया.

संक्रमण के दर से नहीं लगाया किसी ने हाथ
संक्रमण के प्रसार को लेकर लोगों में काफी डर बना हुआ है. ऐसे में दूध पिलाना तो दूर लोग हाथ मिलाने से भी घबरा रहे हैं. वार्ड में भी कई महिलाएं मौजूद थीं जिनकी डिलीवरी हुई थी, लेकिन सभी को इस बात का डर था कि कहीं कोई संक्रमण का खतरा ना हो.

नर्स का है 8 माह का बेटा
नर्स ने बताया कि उनका माह का बेटा है और इसलिए उन्होंने बच्चे को दूध पिला दिया. लेकिन नवजात को दूध पिलाने की बात सुनकर घरवाले घबरा गए थे. लेकिन मैंने उसे आश्वासन दिया कि मैं सभी हाइजीन प्रोटोकॉल का पालन कर रही हूं.



अस्पताल में मिल चुके हैं कोरोना के केस
इससे पहले आरजी कर मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में तीन महिलाएं कोरोना पॉजिटिव मिल चुकी हैं. इसी कैटेगरी में मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, एनआरएस मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, केपीसी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, चित्तरंजन सेवा सदन में कोरोना संक्रमित मिले हैं. संक्रमितों में गर्भवती महिलाएं भी शामिल हैं. अभी तक 30 से ज्यादा गर्भवती महिलाएं कोरोना पॉजिटिव मिली हैं.

कोलकाता में अभी तक कुल 2125 लोग कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं. संक्रमण के कारण मौतों का आंकड़ा 209 पर पहुंच गया है. पश्चिम बंगाल में अब तक कोविड-19 के 5501 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 3027 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है, वहीं 2157 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं.

 

ये भी पढ़ें : एक हफ्ते में मिले कोरोना के 48 हजार नए मरीज, 24 घंटे में सबसे ज्यादा मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज