• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 'कुलभूषण जाधव पर दबाव बना रहा है पाकिस्तान'

'कुलभूषण जाधव पर दबाव बना रहा है पाकिस्तान'

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से सोमवार को इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद भारत की ओर से कहा गया है कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव पर गलत दावों को बनाए रखने के लिए गलत बयानी करने के लिए भीषण दबाव बना रहा है.

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से सोमवार को इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद भारत की ओर से कहा गया है कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव पर गलत दावों को बनाए रखने के लिए गलत बयानी करने के लिए भीषण दबाव बना रहा है.

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से सोमवार को इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद भारत की ओर से कहा गया है कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव पर गलत दावों को बनाए रखने के लिए गलत बयानी करने के लिए भीषण दबाव बना रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से सोमवार को इस्लामाबाद में भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद भारत की ओर से कहा गया है कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव पर गलत दावों को बनाए रखने के लिए गलत बयानी करने के लिए भीषण दबाव बना रहा है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस मामले में हमें विस्तृत रिपोर्ट का इंतजार है लेकिन एक बात साफ है कि कुलभूषण जाधव पर पाकिस्तान भारी दबाव बना रहा है. MEA ने कहा कि विस्तृत रिपोर्ट आने के बाद हम आईसीजे के निर्देशों के अनुसार आगे कार्रवाई पर फैसला करेंगे. विदेश मंत्रालय ने जाधव से हुई बातचीत के बारे में उनकी मां को भी जानकारी दे दी है.

    हिरासत के बाद पहली बार मिली राजनयिक पहुंच
    आपको बता दें ये मुलाकात पाकिस्तान द्वारा सोमवार को जाधव को राजनयिक पहुंच की अनुमति दिए जाने के बाद अंतरराष्ट्रीय अदालत (आईसीजे) द्वारा दी गई व्यवस्था के अनुपालन में हुई. वर्ष 2016 में हिरासत में लिए जाने के बाद जाधव तक भारत की यह पहली राजनयिक पहुंच है.

    भारतीय नागरिक जाधव पाकिस्तान की जेल में बंद हैं और ‘जासूसी तथा आतंकवाद’ के आरोप में पाकिस्तान ने 2017 में उन्हें मौत की सजा सुनाई थी. कश्मीर मुद्दे पर दोनों देशों में जारी तनाव के बीच अहलूवालिया ने यहां एक उप-जेल में भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव से मुलाकात की. जाधव से मुलाकात करने से पहले, अहलूवालिया ने पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल से विदेश मंत्रालय में मुलाकात की.



    पाकिस्तान ने झूठे आरोपों में दी थी मौत की सज़ा
    गौरतलब है कि 49 वर्षीय जाधव को ‘जासूसी और आतंकवाद’ के आरोप में पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने अप्रैल, 2017 में मौत की सजा सुनाई थी. उसके बाद भारत ने आईसीजे पहुंचकर उनकी मौत की सजा पर रोक लगाने की मांग की थी.

    पाकिस्तान विदेश कार्यालय ने एक अगस्त को भी कहा था कि भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी को अगले दिन राजनयिक पहुंच दी जाएगी. यह मुलाकात दो अगस्त को अपराह्न तीन बजे होने वाली थी, लेकिन राजनयिक पहुंच की शर्तों को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच मतभेदों के चलते यह बैठक नहीं हो सकी थी.

    भारत ने पाकिस्तान से जाधव तक ‘तत्काल, प्रभावी और निर्बाध’ राजनयिक पहुंच उपलब्ध कराने की मांग की थी और वह कूटनीतिक माध्यमों से इस्लामाबाद के संपर्क में था. हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि आज उपलब्ध कराई गई राजनयिक पहुंच बिना किसी दखल के थी या नहीं, जैसी कि भारत की मांग थी.

    भारत-पाक तनाव के बीच मिली राजनयिक पहुंच
    जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को भारत सरकार द्वारा हटाए जाने के चलते दोनों देशों में तनाव के बीच जाधव को राजनयिक पहुंच उपलब्ध हुई है. कश्मीर मुद्दे पर तनाव के बीच पाकिस्तान ने भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कमतर करते हुए सात अगस्त को भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया को निष्कासित कर दिया था.



    आईसीजे ने 17 जुलाई को पाकिस्तान को जाधव को सुनाई गयी फांसी की सजा पर प्रभावी तरीके से पुनर्विचार करने और राजनयिक पहुंच प्रदान करने का आदेश दिया था.

    ये भी पढ़ें- हमारे पास 250-250 ग्राम के परमाणु बम: पाकिस्तानी रेल मंत्री

    पाकिस्तान का ये है दावा
    पाकिस्तान का दावा है कि उसके सुरक्षाबलों ने जाधव को तीन मार्च, 2016 को अशांत बलूचिस्तान प्रांत से गिरफ्तार किया था जहां वह कथित तौर पर ईरान से पहुंचे थे. हालांकि, भारत का मानना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था जहां वह नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद कारोबार के सिलसिले में गए थे.

    दिसंबर 2017 में पाकिस्तान ने जाधव की पत्नी और मां को उनसे मुलाकात की अनुमति दी थी, लेकिन यह मुलाकात शीशे के स्क्रीन के पीछे से कराई गई थी.

    (भाषा इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज