Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में आतंकियों ने की BJP के 3 कार्यकर्ताओं की हत्या, PM ने कहा- वो अच्छा काम कर रहे थे

    कुलगाम में जिस गाड़ी में भाजपा कार्यकर्ता जा रहे थे आतंकियों ने उस पर गोलीबारी की.
    कुलगाम में जिस गाड़ी में भाजपा कार्यकर्ता जा रहे थे आतंकियों ने उस पर गोलीबारी की.

    Terrorist attack in Jammu Kashmir: अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू कश्मीर में पिछले कुछ दिनों में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आतंकियों के हमले बढ गए हैं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 30, 2020, 6:49 AM IST
    • Share this:
    श्रीनगर: जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के कुलगाम (Kulgam) जिले में आतंकवादियों ने बीजेपी युवा मोर्चा के महासचिव समेत 3 कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या कर दी है. ये घटना गुरुवार शाम की है. पुलिस के अनुसार, इस घटना की जिम्मेदारी लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-E-Taiba) के समर्थक आतंकी समूह द रेसिसटेंस फ्रंट (TRF) ने ली है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना की निंदा करते हुए दुख जताया है. पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, "मैं अपने तीन युवा कार्यकर्ताओं की हत्या की मैं निंदा करता हूं. जम्मू-कश्मीर में अच्छा काम कर रहे थे.  दुख की इस घड़ी में मेरे विचार उनके साथ है. उनकी आत्मा को शांति मिले."

    आतंकी समूह द रेसिसटेंस फ्रंट ने कश्मीर में नेताओं पर ऐसे और हमले करने की धमकी भी दी है. पुलिस ने बताया कि जिस समय आतंकियों ने इन कार्यकर्ताओं पर हमला किया ये कार में वाईके पोरा इलाके से गुजर रहे थे.

    पुलिस ने एक बयान में बताया कि आज शाम करीब 8 बजकर 20 मिनट पर कुलगाम पुलिस को वाईके पोरा गांव में आतंकी हमले की जानकारी मिली, जहां आतंकवादियों ने तीन बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौका ए वारदात पर पहुंच गए हैं. इन तीनों को पास के अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही तीनों कार्यकर्ता दम तोड़ चुके थे.



    महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने जताया शोक
    पुलिस ने बताया कि प्राथमिक जांच से पता चला है कि आतंकियों ने जिन तीन कार्यकर्ताओं पर हमला किया उनकी पहचान वाईके पोरा के रहने वाले बीजेपी युवा महासचिव फिदा हुसैन यट्टू पिता गुलाम अहमद यट्टू, उमर राशिद बेग पिता अब्दुल रशीद बेग निवासी सोपहत देवसर, और उमर रमजान हजाम पिता मोहम्मद रमजान निवासी वाईके पोरा के रूप में हुई है.

    इस घटना पर शोक व्यक्त करते हुए, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, "कुलगाम में तीन भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या के बारे में सुनकर दुख हुआ. उनके परिवारों के प्रति संवेदना. दिन के अंत में, जम्मू-कश्मीर के लोगों को भारत सरकार की नीतियों की वजह से अपनी जान देनी पड़ती है."

    नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने इस हमले की निंदा की है. उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा है कि- दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले से भयानक खबर आ रही है. मैं लक्ष्य बनाकर भाजपा कार्यकर्ताओं पर किए गए इस आतंकी हमले की निंदा करता हूं. अल्लाह उन्हें जन्नत दे और इस मुश्किल समय में उनके परिवार को ताकत मिले.



    हाल ही में, केंद्र शासित प्रदेश में सत्ताधारी दल से जुड़े कुछ नेताओं पर हमले बढ़े हैं. जुलाई में जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले में आतंकवादियों द्वारा गोलीबारी किए जाने के बाद भाजपा नेता शेख वसीम बारी और उनके परिवार के दो सदस्यों की मौत हो गई थी. बारी पहले पार्टी के जिला अध्यक्ष थे.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज