लाइव टीवी

कुलगाम हत्याकांड: 5 मजदूरों के शव गृहनगर लाये गए

भाषा
Updated: October 31, 2019, 5:10 PM IST
कुलगाम हत्याकांड: 5 मजदूरों के शव गृहनगर लाये गए
पश्चिम बंगाल के 5 मजदूरों शव गुरुवार की सुबह मुर्शिदाबाद जिले लाए गए

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के 5 मजदूरों शव गुरुवार की सुबह मुर्शिदाबाद जिले के उनके गृह नगर लाये गए. शवों के साथ परिवार के सदस्य, राज्य के मंत्री तथा तृणमूल कांग्रेस के नेता भी थे.

  • Share this:
बहल नगर (पश्चिम बंगाल). जम्मू-कश्मीर (Jammmu-Kashmir) में कुछ दिनों से दूसरे राज्य के लोगों पर हमलें की वारदातें बढ़ गई हैं. कुलगाम (Kulgam) में आतंकियों द्वारा मारे गए पश्चिम बंगाल के 5 मजदूरों शव गुरुवार की सुबह मुर्शिदाबाद जिले के उनके गृह नगर लाये गए. शवों के साथ परिवार के सदस्य, राज्य के मंत्री तथा तृणमूल कांग्रेस के नेता भी थे. दूर-दराज़ के इलाकों से सैकड़ों लोग अपनी संवेदनाएं जताने और मृतकों के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए बहल नगर गांव पहुंचे. शवों को गुरुवार शाम को दफन किया जाएगा.

कश्मीर के कुलगाम (Kulgam) जिले में आतंकवादियों ने मंगलवार को पांच श्रमिकों की गोली मारकर हत्या कर दी थी. मुर्शिदाबाद से ही ताल्लुक रखने वाला एक अन्य मजदूर हमले में गंभीर रूप से जख्मी हो गया था और उसका श्रीनगर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है. मृतकों की पहचान नोइमुद्दीन शेख, मुरसलीम शेख, रोफिक शेख, कमरुद्दीन शेख और रोफिक उल शेख के तौर पर हुई है.

राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हाकिम ने कश्मीर में सुरक्षा स्थिति को लेकर भाजपा नीत केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए हालिया हमलों के मद्देनजर अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटाने के कारण के बारे में जानना चाहा. वह बुधवार रात को मजदूरों के शवों को लेने के लिए कोलकाता हवाई अड्डे पहुंचे थे. उन्होंने घटना पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की ‘चुप्पी’ पर सवाल उठाया है.

हाकिम ने पत्रकारों से कहा कि देश के नागरिकों को मारा जा रहा है और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह चुप हैं. जब इतने लोगों को मारा जा रहा है तो घाटी से अनुच्छेद 370 को हटाने का क्या औचित्य? इसका मतलब है कि घाटी में आतंकी गतिविधियां बंद नहीं हुई हैं.

हाकिम ने परोक्ष रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘56 इंच का सीना’ भाषण की ओर इशारा करते हुए कहा कि अगर केंद्र सरकार नागरिकों की रक्षा नहीं कर सकती है तो 56 इंच या 72 इंच के सीने का क्या मतलब है. इससे पहले दिन में, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घटना की व्यापक जांच की मांग की.

ममता ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि सभी के बावजूद ऐसे हादसे कैसे हो रहे हैं. उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कश्मीर का पूरा प्रशासन केंद्र सरकार के अधीन आता है. इसके लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार है इस पूरे मामले की जांच होनी चाहिए.

बनर्जी ने कहा कि कश्मीर में, कोई राजनीतिक गतिविधि नहीं हो रही है और वहां पर फिलहाल कोई राजनीतिक पार्टी नहीं है. सारा प्रशासन केंद्र सरकार के हाथ में है और सेना तथा अन्य केंद्रीय बल हैं वे इसे देख रहे हैं. जिस दिन यूरोपीय संघ के सांसदों का प्रतिनिधिमंडल राज्य का दौरा कर रहा था. इस सबके बावजूद, वे कैसे इन गरीब बेगुनाह लोगों का अपहरण कर सके.. मैं सच में हैरान हूं.
Loading...

बनर्जी ने बुधवार को पांच मजदूरों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया था.

ये भी पढ़ें : कुलगाम हमला: ममता ने की जांच की मांग, पांच-पांच लाख रुपये मुआवजे की घोषणा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 5:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...