इस धार्मिक संस्था के अध्यक्ष पर नाबालिग से रेप का आरोप, पद से हटाए गए

एसोसिएशन ने इस मामले के फ्री और फेयर ट्रायल के लिए इसकी सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में कराने की भी मांग की है.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 10:50 PM IST
इस धार्मिक संस्था के अध्यक्ष पर नाबालिग से रेप का आरोप, पद से हटाए गए
एसोसिएशन ने इस मामले के फ्री और फेयर ट्रायल के लिए इसकी सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में कराने की भी मांग की है.
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 10:50 PM IST
लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष को नाबालिग से रेप के आरोप के बाद पद से बर्खास्त कर दिया गया है. लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सेवांग थिनलेस पर नाबालिग से रेप करने का मामला दर्ज होने के बाद उन्हें पद से हटा दिया गया. खबर है कि रेप पीड़िता ने महिला थाना में थिनलेस के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. थिनलेस पर पोस्को एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है.

रेप की खबर सामने आने के बाद से ही बौद्ध समाज में गुस्सा था. इसी को लेकर बुद्धिस्ट एसोसिएशन आपात बैठक बुलाकर यह फैसला लिया था. बैठक में मौजूद सभी लोगों ने इस घटना पर गुस्सा जाहिर किया और इसकी बार थिनलेस को बर्खास्त करने का एकमत से फैसला किया.

फास्टट्रैक कोर्ट में सुनवाई की मांग

पद से हटाने के साथ ही जनरल काउंसिल की सदस्यता भी खत्म कर दी गई. एसोसिएशन ने इस मामले के फ्री और फेयर ट्रायल के लिए इसकी सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में कराने की भी मांग की है.

इस बैठक में फैसला किया गया कि लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट पीटी कुंजांग को अध्यक्ष बनाया जाएगा. सेवांग का कार्यकाल खत्म होने के तक वह अध्यक्ष पद पर रहेंगे.

बता दें 1933 में गठित हुआ लद्दाख बुद्धिस्ट एसोसिएशन बौद्ध समुदाय के लोगों के लिए काम करता है. जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में स्थित ये संगठन बौद्ध समुदाय के लोगों की परंपरा, संस्कृति आदि के विकास के लिए काम करता है.

ये भी पढ़ें-
Loading...

दलाई लामा ने मांगी माफी, कहा- महिला नेताओं के हैं समर्थक
First published: July 2, 2019, 10:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...