होम /न्यूज /राष्ट्र /मुझे रोकने के लिए दबाव बनाया, जेल भेजने की भी दी धमकी... जानें थ्री इडियट्स वाले सोनम वांगचुक ने ऐसा क्यों कहा

मुझे रोकने के लिए दबाव बनाया, जेल भेजने की भी दी धमकी... जानें थ्री इडियट्स वाले सोनम वांगचुक ने ऐसा क्यों कहा

समाज सुधारक सोनम वांगचुक की ओर से ह‍िमालयी क्षेत्र खासकर लद्दाख के ग्‍लेश‍ियरों  को लेकर गहरी च‍िंता जताई है. (Photo-Twitter)

समाज सुधारक सोनम वांगचुक की ओर से ह‍िमालयी क्षेत्र खासकर लद्दाख के ग्‍लेश‍ियरों को लेकर गहरी च‍िंता जताई है. (Photo-Twitter)

Sonam Wangchuk: वांगचुक अपने संस्थान 'द हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ अल्टरनेटिव लद्दाख' में भूख हड़ताल पर बैठे हैं. वह कहते है ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

लद्दाख प्रशासन ने मुझसे मेरी गतिविधियों को रोकने के लिए बांड पर हस्ताक्षर करने को कहा
सोनम वांगचुक ने कहा कि प्रशासन उन्हें अपना संदेश फैलाने से रोकने की कोशिश कर रहा है

लेह. मैग्सेसे पुरस्कार विजेता और थ्री इडियट्स फिल्म से मशहूर हुए सोनम वांगचुक इन दिनों फिर चर्चा में हैं. दरअसल, सोनम वांगचुक लद्दाख के समाज सुधारक भी हैं. वांगचुक 26 जनवरी से भूख हड़ताल पर बैठे हैं, आज उनकी हड़ताल का छठा दिन है. वांगचुक की मांग है कि लद्दाख को संविधान की छठी अनुसूची में शामिल किया जाए. वे लगातार यही कह रहे हैं कि लद्दाख के ग्लेशियरों, पहाड़ और भूमि को सुरक्षा प्रदान की जाए.

वांगचुक अपने संस्थान ‘द हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ अल्टरनेटिव लद्दाख’ में भूख हड़ताल पर बैठे हैं. वह कहते हैं कि लद्दाख की मौजूदा स्थिति को देखते हुए, अब उन्हें यह लगता है कि लद्दाखी 2019 से पहले के जम्मू और कश्मीर राज्य के हिस्से के रूप में बेहतर स्थिति में थे. वांगचुक ने क्षेत्र में अशांति के लिए एलजी को दोषी ठहराया है. उन्होंने कहा कि मुझे एक बांड पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा गया ताकि मेरी गतिविधियों को रोका जाए. मेरे स्कूल के तीन निर्दोष शिक्षकों को पुलिस स्टेशन ले जाया गया है, ताकि वे मुझे बांड पर हस्ताक्षर करने के लिए मजबूर करें. ये हथकंडे एलजी साहब अपना रहे हैं. इस अवसर पर मैं कहूंगा कि एलजी साहब, आप शांतिपूर्ण लद्दाख में उग्रवाद के बीज बोने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं. यहां युवाओं को बेरोजगार रखा गया है और उनका दमन किया जा रहा है, लेकिन याद रखें, हम ऐसा नहीं होने देंगे.

उन्होंने कहा कि जब मैंने अधिकारियों से पूछा कि अगर वह बांड पर हस्ताक्षर नहीं करते हैं तो क्या होगा, उन्हें बताया गया कि उन्हें हिरासत में लिया जा सकता है. इस पर मैंने कहा, “मैं खुश हूं. मैं जेल जाऊंगा. एक आदमी जिसे -40 डिग्री सेल्सियस का डर नहीं था, वह आपकी नजरबंदी से नहीं डर सकता.”

‘ऑल इज नॉट वेल’, ‘3 इड‍ियट्स’ वाले सोनम वांगचुक ने पीएम मोदी से लगाई गुहार, कहा- बचा लीज‍िए वरना…

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए सोनम वांगचुक ने जोर देते हुए यह भी कहा है क‍ि लद्दाख में अगर इस तरह से लापरवाही जारी रही और उद्योगों से सुरक्षा प्रदान करने से परहेज किया गया, तो यहां के ग्लेशियर विलुप्त (Ladakh Glacier extinct) हो जाएंगे. इससे भारत और उसके पड़ोस में पानी की भारी कमी और समस्‍या पैदा हो जाएगी.

Tags: Hunger strike, Jammu kashmir, Ladakh

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें