लाइव टीवी

सुरक्षा बलों पर हमले की साजिश रच रहा लश्कर का खूंखार आतंकी श्रीनगर से गिरफ्तार

News18Hindi
Updated: January 4, 2020, 10:32 AM IST
सुरक्षा बलों पर हमले की साजिश रच रहा लश्कर का खूंखार आतंकी श्रीनगर से गिरफ्तार
श्रीनगर से पकड़ा गया आतंकी निसार अहमद डार.

आतंकी संगठन (Terrorist organization) लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के स्थानीय आतंकी मोहम्मद सलीम पर्रे से निसार के काफी करीबी रिश्ते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2020, 10:32 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. श्रीनगर पुलिस ने सुरक्षाबलों (indian security force) के साथ एक ज्वाइंट ऑपरेशन में शुक्रवार देर रात लश्कर के कथित आतंकी (Lashkar terrorists) को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, यह आतंकी श्रीनगर (Srinagar) में तैनात सुरक्षा बल के जवानों पर हमला करने की साजिश रच रहा था. पकड़े गए आतंकी के पास से बड़ी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया गया है. बरामद किए गए गोला बारूद से अंदाजा लगाया जा सकता है कि आतंकी किसी बड़े हमले को अंजाम देने के फिराक में था.

पकड़े गए आतंकी की पहचान 23 वर्षीय निसार अहमद डार के रूप में की गई है. आतंकी निसार हाजिन के वहाब पर्रे का रहने वाला बताया जा रहा है. पिछले कुछ समय से वह आतंकियों की मदद करता था और उन्हें हथियार सप्लाई किया करता था. आतंकी निसार के खिलाफ 2017 से लेकर 2019 तक आठ एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं.

इसे भी पढ़ें :- J&K: एलओसी पर ब्लास्ट में लेफ्टिनेंट सहित 4 जवान घायल, पाक ने किया सीजफायर उल्लंघन

जानकारी के मुताबिक, आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के स्थानीय आतंकी मोहम्मद सलीम पर्रे से निसार के काफी करीबी रिश्ते थे. उत्तरी कश्मीर में जब भारतीय सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी, उस वक्त निसार वहां से बच निकलने में कामयाब रहा था. पुलिस पकड़े गए आतंकी से पूछताछ कर रही है.

लश्कर का स्लीपर सेल गिरफ्तार
जम्मू-कश्मीर के गांदरबल जिले से दो दिन पहले ही लश्कर-ए-तैयबा के एक भूमिगत कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के मुताबिक गुंड निवासी रईस अहमद लोन (22) मोबाइल सिम कार्ड का धंधा करता था. उसने जिले में सक्रिय लश्कर के आतंकवादियों के लिए कई कार्ड पंजीकृत कराए.
 


इसे भी पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर: गांदरबल में लश्कर का अंडरग्राउंड कार्यकर्ता गिरफ्तार, पाक आतंकी को दी थी मदद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 4, 2020, 9:48 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर