कश्मीर में आतंकियों ने फिर लगाए पोस्टर्स, सरकार की मदद करने वालों को बताया गद्दार

कश्मीर में आतंकियों ने फिर लगाए पोस्टर्स, सरकार की मदद करने वालों को बताया गद्दार
जम्मू-कश्मीर में व्याप्त शांति जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे संगठनों को रास नहीं आ रही है. लश्कर ने एक बार फिर घाटी में दहशत और हिंसा फैलाने के उद्देश्य से पोस्टर्स लगाए हैं.

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में व्याप्त शांति जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammad) और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) जैसे संगठनों को रास नहीं आ रही है. लश्कर (Lashkar) ने एक बार फिर घाटी में दहशत और हिंसा फैलाने के उद्देश्य से पोस्टर्स लगाए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2019, 10:07 AM IST
  • Share this:
आर्टिकल 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के भारत सरकार (Government of India) के फैसले के बाद भी जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में व्याप्त शांति जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammad) और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) जैसे संगठनों को रास नहीं आ रही है. लश्कर (Lashkar) ने एक बार फिर घाटी में दहशत और हिंसा फैलाने के उद्देश्य से पोस्टर्स लगाए हैं. इन पोस्टर्स में कहा गया है कि जो भी कश्मीरी मोदी सरकार (Modi Government) का समर्थन कर रहे हैं वो सभी गद्दार हैं. लश्कर ने ऐसा करने वालों के लिए चेतावनी भी जारी की है.

आतंकी संगठन लश्कर ने पोस्टर्स में लिखा है कि लोग अपने-अपने घरों से बाहर न निकलें, न ही सड़क पर गाड़ियां दिखाई दें. ऐसा कहा गया है कि ऐसा करने से मीडिया में गलत संदेश जा रहा है कि घाटी में सब सामान्य है. लश्कर ने चेतावनी दी है कि जो भी ऐसा करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी. इस पोस्टर के जरिए कश्मीरी युवकों को भारत के खिलाफ भड़काने की भी कोशिश की गई है.

कश्मीर के ज्यादातर इलाकों से पाबंदियां हटा लीं गई हैं.




पाकिस्तान के समर्थन में लश्कर
पोस्टर में लश्कर पाकिस्तान के कदमों का समर्थन कर रहा है. इस पोस्टर में कहा गया है कि कश्मीर मामला संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (United Nations Security Council) में गया है और वहां भी इसे विवादित ही बताया गया है.

लश्कर ने सरकारी कर्मचारियों, व्यवसायी, ट्रांसपोर्टर, रेहड़ी पटरी वालों से काम-धंधा बंद रखने की अपील की है. पोस्टर में कहा गया है कि सभी लोग प्रदर्शनों में शामिल हों और बाइक, स्कूटर और प्राइवेट ट्रांसपोर्ट सड़कों पर न निकलें, वरना कार्रवाई होगी. लश्कर ने साफ़ कहा है कि जो भी सड़क पर निकलेगा उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी उसकी खुद की है.

पाक ने एलओसी के करीब तैनात किए सैनिक
इससे पहले खबर आई थी पाकिस्तान (Pakistan) ने अपनी एक ब्रिगेड को पीओके में नियंत्रण रेखा के करीब बाग और कोटली सेक्टर में भेजा है. सूत्रों की मानें तो ये सैनिक फिलहाल एलओसी से करीब 30 किलोमीटर दूर तैनात हैं. इन सैनिकों की संख्या करीब 2000 बताई जा रही है, जो कि एक ब्रिगेड के बराबर हैं.

ये भी पढ़ें-
J&K: तैनात होगी CRPF-BSF की विशेष बटालियन, निवेशकों के लिए टैक्‍स हॉलीडे

जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले के लिए लड़ाकों को दे रहा ट्रेनिंग दे रहा है पाक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज