लंबे समय बाद दिखा मलिंगा का पुराना अवतार, विश्व कप में बनाया सबसे तेज 'अर्धशतक'

इस श्रीलंकाई दिग्गज ने 43 रन देकर चार विकेट हासिल किए और इसी के साथ एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया.

News18Hindi
Updated: June 22, 2019, 10:10 AM IST
लंबे समय बाद दिखा मलिंगा का पुराना अवतार, विश्व कप में बनाया सबसे तेज 'अर्धशतक'
इस श्रीलंकाई दिग्गज ने 43 रन देकर चार विकेट हासिल किए और इसी के साथ एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया.
News18Hindi
Updated: June 22, 2019, 10:10 AM IST
लसिथ मलिंगा लंबे समय बाद अपने पुराने रूप में दिखे. उनके दम पर श्रीलंका ने इंग्लैंड को 20 रन से हराकर जीत दर्ज की. इस श्रीलंकाई दिग्गज ने 43 रन देकर चार विकेट हासिल किए और इसी के साथ एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया. मुथैया मुरलीधरन के बाद मलिंगा विश्व कप के इतिहास में 50 विकेट लेने वाले दूसरे श्रीलंकाई गेंदबाज बन गए हैं.

इंग्लैंड के खिलाफ इस 35 वर्षीय गेंदबाज ने न सिर्फ बल्लेबाजों को परेशान किया, बल्कि टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ स्पैल में से एक स्पैल भी करवाया. विश्व कप में मलिंगा का यह दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.

श्रीलंका टीम और मलिंगा ने तोड़े यह रिकॉर्ड्स

- मलिंगा विश्व कप के इतिहास में सबसे तेज 50 विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं. सिर्फ चार गेंदबाज भी 50 विश्व कप विकेट तक पहुंच पाए हैं. मलिंगा ने 26 मैच में यह उपलब्धि हासिल की, जबकि ग्लेन मैक्ग्राथ और मुरलीधरन ने 30 मैच और वसीम अकरम ने 34 मैच में 50 विकेट हासिल किए.

- मलिंगा इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बन गए हैं. उन्होंने 30 मैचों में 48 विकेट लिए. इस सूची में ब्रेट ली सबसे उपर हैं. ली ले 37 मैचों में 65 विकेट लिए और उनके बाद ग्लेन मैक्ग्राथ का नंबर आता है, जिन्होंने 33 मैचों में 53 विकेट लिए हैं.

- इंग्लैंड के खिलाफ मलिंगा का 43 रन देकर चार विकेट चटकाने का आंकड़ा विश्व कप के स्टेज पर उनका दूसरा सर्वश्रेष्ठ है. इससे पहले 2011 में केन्या के खिलाफ उन्होंने 38 रन पर छह विकेट लिए थे.

- विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ श्रीलंका का यह पांचवीं जीत है. वहीं हैड टू हैड रिकॉर्ड देखें तो 1999 के बाद से अब तक परिणाम 40 से श्रीलंका के पक्ष में हैं. इंग्लैंड ने श्रीलंका को आखिरी बार 1999 में हराया था. श्रीलंका ने 2007, 2011, 2015 और 2019 में जीत दर्ज की.
- वनडे क्रिकेट में पिछले चार सालों में 233 रनों का लक्ष्य इंग्लैंड के लिए सबसे निम्नतम लक्ष्य है, जिसे इंग्लैंड हासिल करने में असफल रही.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...