Home /News /nation /

lawrence bishnoi convent school to tihar jail big organised extortion business sidhu moose wala murder

कॉन्वेंट स्कूल से तिहाड़ जेल तक : लॉरेंस बिश्नोई ने ऐसे खड़ा किया जबरन वसूली का बड़ा कारोबार

गैंगस्टर बिश्नोई ने कम समय में खड़ा किया जबरन वसूली का बड़ा कारोबार (फाइल फोटो)

गैंगस्टर बिश्नोई ने कम समय में खड़ा किया जबरन वसूली का बड़ा कारोबार (फाइल फोटो)

पहले एक कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ाई करने के बाद डीएवी कॉलेज, चंडीगढ़ से ड्रॉपआउट एक पुलिस कांस्टेबल के बेटे लॉरेंस बिश्नोई ने बहुत जल्दी अपराध की राह पकड़ ली थी. उसके बाद बिश्नोई ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और जबरन वसूली का बड़ा कारोबार खड़ा कर लिया.

अधिक पढ़ें ...

(अर्शदीप अर्शी)

चंडीगढ़. लॉरेंस बिश्नोई अपराध की दुनिया में पिछले 10 साल से ज्यादा समय से सक्रिय है. सैकड़ों अन्य अपराधियों के साथ उस पर कई दर्जन आपराधिक मामले चल रहे हैं. कई जेलों में रह चुका बिश्नोई इनके भीतर अपने संपर्क का दायरा बढ़ाता रहता है. वह अपने अपराध जेलों के अंदर से संचालित करता है. अभी केवल 30 साल का लॉरेंस बिश्नोई संगठित अपराध की दुनिया में बहुत तेजी से अपना प्रभाव बढ़ा रहा है. पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिस तरह से साजिश रची गई और उसे अंजाम दिया गया, ये उसी की ओर इशारा करता है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और पंजाब पुलिस दोनों ने इस मामले में बिश्नोई को मुख्य साजिशकर्ता बताया है, जबकि इसमें विभिन्न राज्यों के कई गिरोह शामिल थे. सिद्धू की हत्या विभिन्न राज्यों में सक्रिय कई गिरोहों के बीच संगठन की ताकत का एक उदाहरण है.

न्यूज18 की एक खबर के मुताबिक इन आरोपियों में गवली गिरोह के लोग भी शामिल हैं, जिन्हें दाऊद इब्राहिम का दुश्मन माना जाता है. इससे साफ है कि लॉरेंस बिश्नोई अपराध जगत में अपना स्तर उठाने की कोशिश कर रहा है. पिछले कुछ साल से बिश्नोई जिस तरह से काम कर रहा है और उसका नाम जिस तेजी से बढ़ रहा है, वह कानून और व्यवस्था के लिए एक बड़ी समस्या की ओर इशारा करता है.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि मूसेवाला की हत्या से निश्चित रूप से बिश्नोई की जबरन वसूली की ताकत बढ़ी है. गौरतलब है कि पिछले कुछ वर्षों में पूर्व डिप्टी सीएम ओपी सोनी, पूर्व विधायक हरप्रताप सिंह अजनाला और पूर्व विधायक अमरपाल सिंह बोनी अजनाला को बिश्नोई के नाम से धमकियां मिल चुकी हैं. बिश्नोई ने एक बार एक पुलिस वाले से कहा था कि वह अपने गैंग में लड़कों की भर्ती सोशल मीडिया से करता है. बेरोजगार युवा या ब्रेनवॉश किए जाने वाले युवा उसके ग्लैमर की चकाचौंध में खो जाते हैं.

लॉरेंस बिश्नोई: देश का सबसे बड़ा गैंगस्टर, गैंग में शामिल हैं 600 से ज्‍यादा शार्प शूटर, पढ़ें पूरी कहानी

न्यूज18 ने लॉरेंस बिश्नोई के नाम का उपयोग करके बनाए गए कई सोशल मीडिया अकाउंट्स की जांच की. ये उसको महिमामंडित करते हैं. हथकड़ी में उसके वीडियो दिखाते हैं. जबकि बिश्नोई लगभग 400 अलग-अलग लोगों के साथ अलग-अलग मामलों में आरोपी है. पिछले 10 साल में बिश्नोई को कई जेलों में रखा गया है. इससे उसे अन्य गिरोहों के साथ संपर्क बनाने में मदद मिली है. बिश्नोई का जेल में दूसरे कैदियों के साथ बर्ताव हमेशा बहुत अच्छा रहता है.

लॉरेंस बिश्नोई को जो लोग शुरू से जानते हैं, उनका कहना है कि वह 2012 में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए गैंगस्टर शेरा खुब्बन की कथित ‘लोकप्रियता’ से प्रभावित था. जबकि शेरा खुब्बन के पिता ने एक वेब चैनल को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि वह एक बार बिश्नोई के घर गए और उसके माता-पिता से अपने बेटे पर समय पर लगाम लगाने के लिए कहा था. खुब्बन की कोर्ट में पेशी के समय लॉरेंस बिश्नोई उससे मिलने जाता था. बिश्नोई उसे खाने के लिए बादाम देता था. फिर एक बार जब लॉरेंस बिश्नोई अपराध के दलदल में उतर गया, तो फिर बाहर निकलने का कोई रास्ता नहीं बचा था.

Tags: Lawrence Bishnoi, Sidhu Moose Wala, Tihar jail

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर