लाइव टीवी

कश्मीर में बेटी का निकाहनामा लेकर भटक रहा पिता, कहा- शादी के लिए तो लड़के को छोड़ दो

News18Hindi
Updated: September 18, 2019, 11:09 AM IST
कश्मीर में बेटी का निकाहनामा लेकर भटक रहा पिता, कहा- शादी के लिए तो लड़के को छोड़ दो
श्रीनगर के प्रेस एन्क्लेव में अखबारों के कार्यालय के चक्कर काटते नजीर अहमद भट.

केंद्र सरकार (central government) की ओर से जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में आर्टिकल 370 (Article 370) हटाए जाने और दो केंद्र शासित प्रदेशों के पुनर्गठन के फैसले के बाद से किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए कश्मीर (Kashmir) में काफी संख्या में लोगों को गिरफ्तार किया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2019, 11:09 AM IST
  • Share this:
श्रीनगर. हाथ में अपनी बेटी का निकाहनामा (विवाह प्रमाणपत्र) लिए नजीर अहमद बट हर दिन श्रीनगर (Srinagar) के प्रेस एन्क्लेव (press enclave) में अखबारों के कार्यालय में चक्कर लगाते हैं और शाम को थक-हारकर वापस मायूस घर लौट आते हैं. दरअसल उनकी बेटी की शादी (Marriage) हाल में ही होनी थी लेकिन उनके दामाद को अभी भी जेल (Jail) में रखा गया है. नजीर अहमद हर दिन अखबारों के दफ्तर में पहुंचते हैं और अधिकारियों से अनुरोध करते हैं कि उनके दामाद को शादी के लिए जल्द से जल्द रिहा कर दिया जाए.

उत्तरी कश्मीर में बारामूला जिले के रफियाबाद क्षेत्र के रहने वाले नजीर अहमद हर दिन सुबह करीब 60 किलोमीटर का सफर कर श्रीनगर आते हैं. नजीर अहमद ने बताया कि उनके एक रिश्तेदार ने सुझाव दिया था कि समाचार पत्रों में अपील करने से उनकी मदद हो सकती है. नजीर अहमद ने बताया कि यह उनकी आखिरी उम्मीद है. नजीर अहमद की बेटी का निकाह पहले ही हो चुका है और 8 सितंबर को उसकी रुखसती तय हुई थी. नजीर अहमद का परिवार पिछले छह महीने से शादी की तैयारी कर रहा था. बारात की तैयारी भी पूरी कर ली गई थी, लेकिन दामाद के न होने के कारण सब बेकार हो गया.

इसे भी पढ़ें :- भारतीय सेना ने पाकिस्तानी 'BAT' की घुसपैठ को किया नाकाम, देखें VIDEO

बट के दामाद तनवीर अहमद एक बिजनेस ग्रेजुएट हैं और अपने गांव के सरपंच हैं. केंद्र सरकार की ओर से जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने और दो केंद्र शासित प्रदेशों के पुनर्गठन के फैसले के बाद से किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए कश्मीर में काफी संख्या में लोगों को गिरफ्तार किया गया था. कश्मीर से गिरफ्तार लोगों में एक नजीर अहमद के दामाद तनवीर अहमद भी थे. नजीर ने बताया कि उन्हें चार दिन पहले ही खबर लगी है कि तनवीर को लखनऊ जेल भेज दिया गया है.

इसे भी पढ़ें :- कश्मीर में घुसपैठ के लिए अब उन पहाड़ियों पर चढ़ रहे आतंकी, जहां सेना भी नहीं जाती

दामाद को शादी के लिए छोड़ने का किया अनुरोध
तनवीर अहमद बारामुला जिले के मकबूल अबद गांव के निवासी हैं और अपने माता-पिता के इकलौते पुत्र हैं. उनकी पांच बहनें हैं और सभी की शादी हो चुकी है. उनके माता-पिता दोनों बीमार हैं. पिता को मधुमेह है और मां दिल की बीमारी से पीड़ित हैं. बट ने स्थानीय समाचार पत्रों में एक अपील जारी की है, जिसमें प्रशासन से अपने दामाद को शादी के लिए छोड़ने का अनुरोध किया गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2019, 10:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...