लाइव टीवी

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवाने होंगे 28वें सेना प्रमुख, आज संभालेंगे कार्यभार

भाषा
Updated: December 31, 2019, 12:02 AM IST
लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवाने होंगे 28वें सेना प्रमुख, आज संभालेंगे कार्यभार
लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरावने अगले सेना प्रमुख होंगे.

सितंबर में उप सेना प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभालने से पहले नरवाने सेना की पूर्वी कमान का नेतृत्व कर रहे थे जो चीन से लगने वाली करीब 4000 किलोमीटर लंबी भारतीय सीमा पर नजर रखती है.

  • भाषा
  • Last Updated: December 31, 2019, 12:02 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवाने (Lieutenant General Manoj Mukund Naravane) मंगलवार को जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) से मंगलवार को सेना प्रमुख का कार्यभार ग्रहण करेंगे. जनरल रावत को भारत का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (Chief of Defence Staff) नियुक्त किया गया है. तीन साल के कार्यकाल के बाद वह मंगलवार को सेवानिवृत्त हो रहे थे. लेफ्टिनेंट जनरल नरवाने फिलहाल उप-सेनाप्रमुख की जिम्मेदारी निभा रहे हैं.

सितंबर में उप सेना प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभालने से पहले नरवाने सेना की पूर्वी कमान का नेतृत्व कर रहे थे जो चीन से लगने वाली करीब 4000 किलोमीटर लंबी भारतीय सीमा पर नजर रखती है.

ऐसा रहा है नए सेना प्रमुख का करियर
अपने 37 साल के कार्यकाल के दौरान लेफ्टिनेंट जनरल नरवाने विभिन्न कमानों में शांति, क्षेत्र और उग्रवाद रोधी बेहद सक्रिय माहौल में जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) व पूर्वोत्तर (North East) में अपनी सेवाएं दे चुके हैं. वह जम्मू कश्मीर में राष्ट्रीय राइफल्स (Rashtriya Rifles) की बटालियन और पूर्वी मोर्चे पर इंफेंट्री ब्रिगेड की कमान संभाल चुके हैं. वह श्रीलंका (Sri Lanka) में भारतीय शांति रक्षक बल का हिस्सा थे और तीन वर्षों तक म्यांमार (Myanmar) स्थित भारतीय दूतावास में रक्षा अताशे रहे.



नरवाने को मिल चुके हैं ये मेडल
लेफ्टिनेंट जनरल नरवाने राष्ट्रीय रक्षा अकादमी और भारतीय सैन्य अकादमी के छात्र रहे हैं. वह जून 1980 में सिख लाइट इन्फैंटरी रेजिमेंट के सातवें बटालियन में कमीशन प्राप्त हुए. उन्हें ‘सेना मेडल’, ‘विशिष्ट सेवा मेडल’ और ‘अतिविशिष्ट सेवा मेडल’ प्राप्त है.

बिपिन रावत बने हैं नए CDS
बता दें सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत को सोमवार को देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) नियुक्त किया गया है. सीडीएस का काम सेना, नौसेना और वायुसेना के कामकाज में बेहतर तालमेल लाना होगा. सरकारी आदेश के मुताबिक सीडीएस के पद पर जनरल रावत की नियुक्ति 31 दिसंबर से प्रभावी होगी. जनरल रावत ने 31 दिसंबर 2016 को सेना प्रमुख का पद संभाला था. वह मंगलवार को सेवानिवृत्त हो रहे थे.

ये भी पढ़ें-
जनरल बिपिन रावत होंगे देश के पहले CDS, कैबिनेट कमेटी ने किया औपचारिक ऐलान

सुप्रीम कोर्ट के वो 5 ऐतिहासिक निर्णय जिनके लिए याद किया जाएगा ये दशक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 30, 2019, 10:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर