पंजाब चुनाव में दिखेगा किसान आंदोलन का असर! प्रचार से लेकर मतदान तक पर असमंजस

किसान आंदोलन के बीच पंजाब में होने वाले ये पहले चुनाव है.

Punjab Elections: पंजाब में आठ नगर निगमों, 109 नगर पालिका परिषदों और नगर पंचायतों के लिए चुनाव होने है. राज्य निर्वाचन आयुक्त जगपाल सिंह संधू ने कहा कि 14 फरवरी को सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक स्थानीय निकाय चुनावों के लिए मतदान होंगे.

  • Share this:
    नई दिल्ली/चंडीगढ़. पंजाब में नगर निकाय चुनावों (Punjab Local Body Election) में बमुश्किल 10 दिन बचे हैं. केंद्र द्वारा पारित किए गए कृषि कानूनों के खिलाफ राज्यभर के किसान दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं. किसानों का समर्थन पाने के लिए राजनेता आंदोलन में हिस्सा ले रहे हैं. पंजाब की राजनीति में किसानों के आंदोलन को केंद्र में ले जाने के साथ, इन स्थानीय निकाय चुनावों को सभी राजनीतिक दलों के लिए एक एसिड परीक्षण के रूप में देखा जा रहा है.

    खास बात ये है कि जिन क्षेत्रों के किसान कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं उन्हीं इलाकों में चुनाव होना है. किसानों के साथ कई परिवार के लोग भी दिल्ली की सीमा पर मौजूद हैं. ऐसे में राजनीतिक पार्टियां कैसे आम जनता को लुभाए इसकी चुनौती उनके सामने है. उससे भी बड़ी बात है कि आखिरकार मतदान की प्रक्रिया में कैसे ये लोग हिस्सा लेंगे?

    इस पर कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता का कहना है, 'राज्य के किसानों के परिवार के लोग रोटेशन में सीमा पर शिविर लगा रहे हैं. किसानों ने आम तौर पर नेताओं को आंदोलन को हाईजैक करने की अनुमति नहीं दी है. इसलिए अनिश्चितता की भावना है कि ये किसान और उनके परिवार किस रास्ते पर मतदान करेंगे. ये समझना मुश्किल है.



    14 फरवरी को होंगे मतदान
    उल्लेखनीय है कि पंजाब में आठ नगर निगमों, 109 नगर पालिका परिषदों और नगर पंचायतों के लिए चुनाव होने है. राज्य निर्वाचन आयुक्त जगपाल सिंह संधू ने कहा कि 14 फरवरी को सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक स्थानीय निकाय चुनावों के लिए मतदान होंगे. चुनाव की घोषणा के साथ ही ‘आदर्श आचार संहिता’ तत्काल प्रभाव से नगरपालिकाओं के उन क्षेत्रों में लागू हो गई थी जहां चुनाव होने हैं और यह आचार संहिता चुनावी प्रक्रिया पूरी होने तक लागू रहेगी.



    ये भी पढ़ेंः- Farmer Protest: पॉप और पॉर्न स्टार को सचिन तेंदुलकर का दो टूक जवाब, देश की संप्रभुता से समझौता नहीं



    145 रिटर्निंग ऑफिसर की नियुक्ति
    जगपाल संधू ने कहा कि नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 30 जनवरी 2021 से शुरू हो चुकी है. नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 3 फरवरी है. संधू ने कहा कि चुनाव कराने के लिए 145 रिटर्निंग ऑफिसर और कई सहायक रिटर्निंग ऑफिसर नियुक्त किए गए हैं.