Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    UP की इकोनॉमी में स्ट्रीट वेंडर्स की बड़ी भूमिका, अब गरीब के घर तक जाता है बैंक- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

    ‘पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना’ (PM Street Vendor Aatmanirbhar Yojna) के तहत उत्तर प्रदेश के लाभार्थियों के साथ मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने वर्चुअल संवाद किया.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 27, 2020, 11:45 AM IST
    • Share this:
    लखनऊ/ नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी योजनाओं में शामिल ‘पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना’  (PM Street Vendor Aatmanirbhar Yojna) के तहत उत्तर प्रदेश के लाभार्थियों के साथ मंगलवार को वर्चुअल संवाद किया. इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी जुड़े. इस दौरान पीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में स्ट्रीट वेंडर्स की बहुत बड़ी भूमिका है. यूपी से जो पलायन होता था उसे कम करने में भी रेहड़ी-पटरी के व्यवसाय की बहुत बड़ी भूमिका है. इसलिए पीएम स्वनिधि योजना का लाभ पहुंचाने में भी यूपी आज पूरे देश में नंबर वन है.

    उन्होंने कहा कि मेरे गरीब भाई बहनों को कैसे कम से कम तकलीफ उठानी पड़े, सरकार के सभी प्रयासों के केंद्र में यही चिंता थी. इसी सोच के साथ देश ने 1 लाख 70 हजार करोड़ से गरीब कल्याण योजना शुरू की.

    पीएम ने कहा, 'आज का दिन आत्मनिर्भर भारत के लिए महत्वपूर्ण दिन है. कठिन से कठिन परिस्थितियों का मुकाबला ये देश कैसे करता है, आज का दिन इसका साक्षी है. कोरोना संकट ने जब दुनिया पर हमला किया, तब भारत के गरीबों को लेकर तमाम आशंकाएं व्यक्त की जा रही थीं. कहा गया कि बिना बैंक कर्मियों के सहयोग के यह काम नहीं हो सकता था. मैं सभी बैंक कर्मियों का भी धन्यवाद करता हूं. सभी गरीबों के आशीर्वाद बैंक कर्मियों को मिलने चाहिए.'



    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक समय था जब स्ट्रीट वेंडर्स बैंक के भीतर नहीं जाते थे. उन्हें डर लगता था. आज बैंक उनके घर तक जा रहा है. सभी को मेरी शुभकामनाएं.
    लखनऊ के विजय बहादुर से की बात
    पीएम मोदी ने लखनऊ के विजय बहादुर से बात की. इस दौरान पीएम ने पूछा कि योजना के जरिए उन्होंने क्या काम शुरू किया है. वह लइया, चना, मूंगफली के साथ भेलपुरी का व्यवसाय करते हैं. इसके बाद पीएम ने वाराणसी के अरविंद मौर्य से बातचीत की. वह मोमोज का व्यवसाय करते हैं.

    आगरा निवासी प्रीति से बात करते हुए पीएम ने कहा कि वह माताओं बहनों के आशीर्वाद से काम कर रहे हैं. इस दौरान प्रीति ने पीएम को बताया कि उनके पति के पहले मजदूरी करते थे लेकिन अब उनके पैर में कुछ दिक्कत आ गई है इसलिए वह अब ठेले पर ही उनकी मदद करते हैं जिस पर पीएम ने कहा कि मैं अफसरों को कहता हूं वह आपसे मिलेंगे और समस्या का समाधान करेंगे.

    प्रधानमंत्री ने इस संवाद कार्यक्रम में सबसे पहले आगरा की एक फल विक्रेता प्रीति से बात की. इस दौरान पीएम ने उनसे लॉकडाउन  के दौरान आई दिक्कतों पर बात की. साथ ही यह पूछा कि इस योजना के साथ उन्हें कैसे लाभ हुआ.

     ऋण वितरण में उत्तर प्रदेश पहले स्थान
    इससे पहले यूपी सरकार ने बताया था कि पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना की सभी तीनों श्रेणियों आवेदन, स्वीकृति और ऋण वितरण में प्रदेश पहले स्थान पर है. प्रवक्ता ने बताया कि केंद्र सरकार ने कोविड–19 से प्रभावित हुए पटरी दुकानदारों और फेरीवालों को अपनी आजीविका फिर से शुरू करने में मदद करने के लिए पिछली एक जून को ‘पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना’ शुरू की थी. इस योजना का लाभ उठाने के लिए उत्तर प्रदेश में 6.40 लाख से अधिक स्ट्रीट वेंडर ने ऋण के लिए आवेदन किए. इनमें से 3,62,785 से अधिक आवेदनों के लिए ऋण स्वीकृत भी कर लिया गया है.

    शहरी विकास विभाग के प्रमुख सचिव दीपक कुमार ने बताया कि राज्य के 651 शहरी स्थानीय निकायों में 3,050 रजिस्टर्ड वेंडिंग जोन हैं और इन क्षेत्रों में, 7.78 लाख से अधिक विक्रेताओं की पहचान कर ली गई है. राज्य में 6.68 लाख से अधिक पंजीकृत विक्रेता हैं, सरकार ने 4,70,923 विक्रेताओं को प्रमाण पत्र भी जारी कर दिये हैं. इन विक्रेताओं को 4.77 लाख से अधिक कार्ड जारी किए गए हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वे अपने व्यवसाय को बिना किसी परेशानी के चला सकें.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज