• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Vaishno Devi Bhawan Stampede Live Update: तीर्थयात्रियों के दो समूहों के बीच झगड़े के कारण मची थी भगदड़, श्राइन बोर्ड का बड़ा बयान

Vaishno Devi Bhawan Stampede Live Update: तीर्थयात्रियों के दो समूहों के बीच झगड़े के कारण मची थी भगदड़, श्राइन बोर्ड का बड़ा बयान

Vaishno Devi Bhawan Stampede Live Update: जम्मू-कश्मीर स्थित प्रसिद्ध माता वैष्णो देवी तीर्थ क्षेत्र में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के कारण मची भगदड़ में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए. भगदड़ मंदिर के गर्भगृह के बाहर गेट नंबर तीन के पास हुई. माता वैष्णो देवी मंदिर जम्मू से करीब 50 किलोमीटर दूर त्रिकुटा पर्वत पर स्थित है.

  • News18Hindi
  • | January 01, 2022, 23:58 IST
    LAST UPDATED 5 MONTHS AGO
    22:28 (IST)

    आदेश में कहा गया है, ‘समिति घटना (भगदड़) के कारणों की विस्तार से जांच करेगी और खामियों को बताएगी और इसकी जिम्मेदारी तय करेगी.’ इसमें कहा गया है कि समिति एक सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपेगी और भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए उचित मानक संचालन प्रक्रियाओं और उपायों का सुझाव देगी.

    22:27 (IST)

    वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ की घटना की जांच के लिए गठित तीन सदस्यीय समिति को एक सप्ताह के भीतर जम्मू-कश्मीर सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा गया है. प्रधान सचिव (गृह) की अध्यक्षता में समिति का गठन उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने किया. भगदड़ में 12 लोगों की मौत हो गई और 12 से ज्यादा लोग घायल हो गए. जम्मू-कश्मीर प्रशासन की ओर से आज शाम जारी एक आदेश में, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव मनोज कुमार द्विवेदी ने कहा कि इस दुखद घटना के कारणों का पता लगाने के लिए उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया है. समिति के अन्य दो सदस्य जम्मू संभागीय आयुक्त राघव लंगर और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, जम्मू मुकेश सिंह हैं.

    17:14 (IST)

    डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि कुछ युवकों के बीच झगड़ा हुआ था और कुछ ही सेकंड में भगदड़ के हालात बन गए. उन्होंने कहा, ‘नागरिक प्रशासन के अधिकारियों और पुलिस ने तत्काल कार्रवाई की और भीड़ को तत्काल व्यवस्थित किया गया, लेकिन तब तक नुकसान हो चुका था. भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व विधायक देवेंद्र सिंह राणा ने कहा कि यह इस मंदिर में हुई इस प्रकार की पहली घटना है.

    17:06 (IST)

    एक व्यक्ति ने अपना नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि यदि संबंधित प्राधिकारियों ने तीर्थयात्रियों का बेहतर प्रबंधन किया होता, तो इस हालात से बचा जा सकता था. उसने कहा, ‘इसी प्रकार की स्थिति कुछ मिनट पहले भी हुई थी, लेकिन सौभाग्य से कोई हताहत नहीं हुआ और स्थिति नियंत्रित कर ली गई. हम 10 श्रद्धालु साथ आए थे. हम सभी पड़ोसी हैं. भारी भीड़ के कारण भगदड़ मची, क्योंकि लोग अंदर-बाहर आ-जा रहे थे और हर कोई जल्दी में था.’ तीर्थयात्री ने कहा कि कई लोग वापस जाने के बजाय, जमीन पर आराम कर रहे थे और इसके कारण भवन में और भीड़ बढ़ गई.

    16:58 (IST)

    जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा कि एक मामूली लड़ाई इस ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण’’ घटना के लिए जिम्मेदार है. एक शव को पहचानने के लिए एक शवगृह के बाहर इंतजार कर रहे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से आए एक तीर्थयात्री ने कहा, ‘इस त्रासदीपूर्ण हादसे का कारण केवल कुप्रबंधन है. उन्हें भीड़ बढ़ सकने की जानकारी थी, लेकिन लोगों को बेरोक-टोक आने की अनुमति दी.’

    16:58 (IST)

    माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने यह कहते हुए आरोपों का खंडन किया कि संभावित भीड़ के मद्देनजर सभी आवश्यक प्रबंध किए गए थे.

    16:57 (IST)

    वैष्णव देवी में मची भगदड़ के कारण 12 लोगों की मौत के मामले में स्थानीय लोगों ने श्राइन बोर्ड के खिलाफ प्रदर्शन किया है. लोगों का कहना है कि प्रबंधन अनुमति से ज्यादा लोगों को मंदिर परिसर में जाने दिया.

    14:48 (IST)
      प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार माता वैष्णो देवी तीर्थ क्षेत्र में मची भगदड़ में घायल हुए लोगों के लिए राहत कार्यों का पूरा ध्यान रख रही है और वह जम्मू-कश्मीर प्रशासन के लगातार संपर्क में है। मोदी ने ‘पीएम-किसान’ योजना के तहत निधि जारी करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से बात की है.

    14:47 (IST)
    इस हादसे में कुल 15 लोग घायल हुए हैं जिनमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है जबकि चार को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि मंत्री ने घायल श्रद्धालुओं के साथ बातचीत की और चिकित्सकों ने भी उन्हें मरीजों की हालत के संबंध में जानकारी दी. उन्होंने बताया कि भाजपा की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रविंद्र रैना, वरिष्ठ पार्टी नेता देवेंद्र सिंह राणा और सुरजीत सिंह सलाठिया ने भी अलग-अलग अस्पताल और नजदीकी कटरा आधार शिविर जाकर स्थिति का जायजा लिया.

    14:46 (IST)
    केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में स्थित माता वैष्णो देवी तीर्थ क्षेत्र में भगदड़ में घायल हुए श्रद्धालुओं से शनिवार को मुलाकात की और उनका हालचाल जाना. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि त्रिकुटा पहाड़ी स्थित धाम पर भारी भीड़ के चलते तड़के मची भगदड़ में दो महिलाओं सहित कम से कम 12 लोगों की मौत हुई है. अधिकारियों ने बताया कि सिंह ने काकरियाल स्थित श्री माता वैष्णो देवी नारायण सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल जाकर घायलों का हालचाल जाना और इस दौरान जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह भी उनके साथ थे.

    Vaishno Devi Bhawan Stampede Live Updates: जम्मू/ नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर(Jammu Kashmir ) में प्रसिद्ध माता वैष्णो देवी मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ (Vaishno Devi Bhawan Stampede) के कारण मची भगदड़ में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. भगदड़ मंदिर के गर्भगृह के बाहर गेट नंबर तीन के पास हुई. माता वैष्णो देवी मंदिर जम्मू से करीब 50 किलोमीटर दूर त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि वह जम्मू-कश्मीर के माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ मचने से श्रद्धालुओं की मौत की खबर से अत्यंत दुखी हैं. उन्होंने शोकसंतप्त परिवारों के प्रति संवेदना भी प्रकट की. कोविंद ने कहा, ‘मैं घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’ उन्होंने ट्वीट किया, ‘मैं यह जानकर अत्यंत दुखी हूं कि माता वैष्णो देवी भवन में एक दुर्भाग्यपूर्ण भगदड़ में श्रद्धालुओं की मौत हो गई. मैं शोकसंतप्त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. मैं घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर शोक व्यक्त किया. प्रधानमंत्री ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और कहा कि उन्होंने स्थिति का जायजा लेने के लिए जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और केंद्रीय मंत्रियों जितेंद्र सिंह तथा नित्यानंद राय से बात की है.

    मोदी ने ट्वीट किया, ‘माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ से लोगों की जान जाने से अत्यंत दुखी हूं. शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं. जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा जी, मंत्रियों जितेंद्र सिंह जी, नित्यानंद राय जी से बात की और स्थिति की जानकारी ली.’

    प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने प्रधानमंत्री मोदी के हवाले से एक ट्वीट में कहा, ‘माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे.’

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी घटना पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘माता वैष्णो देवी मंदिर में हुई दुखद दुर्घटना से हृदय अत्यंत व्यथित है. इस संबंध में मैंने जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से बात की है. प्रशासन घायलों के उपचार के लिए निरंतर कार्यरत है. इस हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं.’

    उपराज्यपाल सिन्हा ने भगदड़ की घटना की जांच के आदेश दिए हैं. जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल के कार्यालय ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा, ‘श्री माता वैष्णो देवी स्थल पर भगदड़ के कारण लोगों की मृत्यु से बेहद दुखी हूं. मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं.’ सिन्हा ने कहा, ‘माननीय गृह मंत्री अमित शाह जी से बात की. उन्हें घटना के बारे में जानकारी दी. आज की भगदड़ की घटना की उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया गया है. प्रधान सचिव (गृह), जम्मू की अध्यक्षता में जांच समिति का गठन किया गया है जिसमें एडीजीपी, जम्मू और संभागीय आयुक्त सदस्य होंगे.’

    रक्षामंत्री, राहुल, जितेंद्र सिंह ने जताया दुःख
    रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया- माता वैष्णो भवन में मची भगदड़ की घटना दिल दहला देने वाली है. लोगों के निधन से मन आहत हैं. इस दुखद घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए ईश्वर से प्रार्थना.

    केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने इस घटना पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद घटना पर नजर रखे हुए हैं. वह सीधे प्रशासन से बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पिछले कई समय से ऐसा ट्रेंड चल रहा है कि लोग नए साल पर इकट्ठा होते हैं. न्यू इयर पर ट्रेंड हो गया है. मंत्री ने कहा- किसी को रात दो-ढाई बजे को धक्का लगा .भीड़ भारी थी ,समझ में नहीं आया क्या हुआ और लोग भागने लगे.

    कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जम्मू कश्मीर के माता वैष्णो देवी मंदिर में शविवार को हुई भगदड़ की घटना पर दुख व्यक्त किया. गांधी ने ट्वीट किया,’माता वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. मैं मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं.’ कांग्रेस नेता ने घटना में घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन
    0