Ayodhya Ram Mandir Bhumi Poojan: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से भूमि पूजन समरोह में हिस्सा लेंगे आडवाणी और जोशी

Ayodhya Ram Mandir Bhumi Poojan: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से भूमि पूजन समरोह में हिस्सा लेंगे आडवाणी और जोशी
ट्रस्ट ने फोनकर बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी व मुरली मनोहर जोशी को न्योता दिया.

राम मंदिर (Ram Mandir) भूमि पूजन कार्यक्रम 5 अगस्त को होना है. इस कार्यक्रम में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) समेत कई बड़े नेता हिस्सा ले रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 2, 2020, 11:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के भूमि-पूजन समारोह की तैयारिया जोर शोर से चल रही हैं. राम मंदिर निर्माण को लेकर देशभर में अलख जगाने वाले व आंदोलन के दौरान कई बार जेल जा चुके बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी (LK Advani) व मुरली मनोहर जोशी (Murali Manohar Joshi) को ट्रस्ट ने शनिवार को फोन कर कार्यक्रम में हिस्सा लेने का न्योता दिया है. हालांकि दोनों ही वरिष्ठ नेता ने भूमि-पूजन समारोह में अयोध्या (Ayodhya) नहीं जाएंगे. खबर है कि दोनों नेता 5 अगस्त को होने वाले इस विशाल कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हिस्सा लेंगे.

राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम 5 अगस्त को होना है. इस कार्यक्रम में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई बड़े नेता हिस्सा ले रहे हैं. भूमि पूजन को लेकर अभी से अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था को चुस्त कर दिया गया है. गौरतलब है कि बाबरी ​मस्जिद विध्वंस मामले में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी की सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेशी हुई थी. इस दौरान लालकृष्ण आडवाणी से कई सवाल पूछे गए. इस दौरान उनके ऊपर जितने भी आरोप लगाए गए उन्होंने सभी आरोपों से इनकार किया.

पिछले हफ्ते सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लालकृष्ण आडवाणी की पेशी की गई. 11 बजे शुरू हुआ सवालों का दौर दोपहर साढ़े 3 बजे तक चला. सुनवाई के दौरा आडवाणी से 100 सवाल पूछे गए. वहीं आडवाणी ने सभी आरोपों से इनकार किया. बता दें कि सीबीआई ने साल 1992 में अयोध्या में विवादित ढांचा विध्वंस मामले में लालकृष्ण आडवाणी को आरोपी बनाया है.



बता दें कि इससे पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह और उमा भारती के बयान भी दर्ज किए जा चुके हैं. गौरतलब है कि अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को कार सेवकों के जरिए बाबरी मस्जिद ढहा दी गई थी. इस मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, कल्याण सिंह के खिलाफ मुकदमा चल रहा है.
इसे भी पढ़ें :- भूमि पूजन से पहले अभेद्य किले में तब्दील अयोध्या, एक दिन पहले से सील रहेंगी सीमाएं

40 किलो चांदी की ईंट से किया जाएगा अनुष्ठान
अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर भव्य तैयारी जोरों पर चल रही है. अयोध्या में तीन दिवसीय वैदिन अनुष्ठान भव्य भूमि पूजन समारोह आयोजित किया जाएगा. भूमि पूजन के दौरान मंदिर की नींव में 40 किलो चांदी की ईंट की स्थापना की जाएगी. अभी तक की खबर के मुताबिक 3 अगस्त को गौर गणेश पूजा के के साथ इस कार्यक्रम की शुरुआत होगी. इसके बाद 4 अगस्त को रामरचा होगा, जिसमें बिना रुके राम नाम का पाठ किया जाएगा. पूरे समारोह का सीधा प्रसारण किया जाएगा ताकि सभी लोग इस कार्यक्रम का हिस्सा बन सकें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading