कोरोना की रफ्तार देख झारखंड में 6 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, हेमंत सरकार का फैसला

झारखंड में कोरोना की रोकथाम के लिए 6 मई तक बढ़ा लॉकडाउन.

झारखंड में कोरोना की रोकथाम के लिए 6 मई तक बढ़ा लॉकडाउन.

Jharkhand Lockdown extended: झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने 22 से 29 अप्रैल तक लागू स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि बढ़ाकर 6 मई की. अब 2 बजे तक ही खुलेंगी दुकानें, 3 बजे के बाद आम लोगों की आवाजाही पर भी रोक.

  • Share this:
रांची. झारखंड में कोरोना वायरस संक्रम की रफ्तार पर अब तक अंकुश न लग पाने के कारण प्रदेश सरकार गंभीर हो गई है. इसी वजह से राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि का विस्तार किया है. नए स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को और भी सख्त बनाया गया है, जिसमें 8 बजे तक जिन दुकानों या संस्थानों को खोलने की छूट थी, उसकी भी समयावधि को घटाते हुए 2 बजे कर दिया गया है. वहीं सड़कों पर आम लोगों की आवाजाही को भी 3 बजे तक ही करने का निर्देश दिया गया है.

हेमंत सोरेन की सरकार ने आपदा प्रबंधन की बैठक के बाद स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि को बढ़ाने का निर्णय लिया. मामले को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बताया कि बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को 6 मई तक के लिए बढ़ाया गया है, ताकि संक्रमण के ग्राफ को कम किया जा सके. वहीं उन्होंने बताया कि 22 अप्रैल से 29 अप्रैल तक वाले स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को थोड़ा मोडिफाई कर इसे सख्त बनाया गया है.

Youtube Video


मुख्यमंत्री ने बताया कि जो दुकानें और संस्थाएं शाम 8 बजे तक खुली रहती थीं, अब उन्हें 2 बजे तक बंद करने का निर्देश दिया गया है. 3 बजे के बाद प्रदेश में जरूरी सेवाओं को छोड़कर मूवमेंट पर भी रोक लगाई जाएगी. सीएम ने कहा कि और भी बहुत कुछ है जिसे तैयार किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन युक्त बेड बढ़ाने को लेकर सरकार प्रयासरत है. इसी सिलसिले में रांची के रातू रोड स्थित निगम अस्पताल में 40  बेड के अस्पताल का उद्घाटन किया गया. उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन बेड के साथ-साथ नॉन ऑक्सीजन बेड भी वर्तमान समय की जरूरत है, जिसे देखते हुए सभी जिलों में अतिरिक्त 50 नॉन ऑक्सीजन बेड लगाने का निर्देश भी दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज