लॉकडाउन: प्रधानमंत्री मोदी ने की दुकानदारों की तारीफ, कहा- आप बधाई के पात्र हैं

लॉकडाउन: प्रधानमंत्री मोदी ने की दुकानदारों की तारीफ, कहा- आप बधाई के पात्र हैं
पीएम मोदी ने कहा समाज और देश इनके इस योगदान को हमेशा याद रखेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि इस लॉकडाउन (Lockdown) में हम कल्पना करें कि हमारे ये छोटे-छोटे व्यापारी और दुकानदार खुद के जीवन का रिस्क न लेते और रोजमर्रा की जरूरत का सामान न पहुंचाते तो क्या होता?

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2020, 12:52 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) पर रोकथाम के लिये देशभर में लागू लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान लोगों को उनकी दैनिक जरूरत के सामान की उपलब्धता बनाये रखने के लिये छोटे दुकानदारों और व्यापारियों का रविवार को धन्यवाद किया.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि- "इस संकट की घड़ी में देशवासी लॉकडाउन (Lockdown) का पालन कर पा रहे हैं, इसमें समाज के अनेक वर्गों की सकारात्मक भूमिका है. हम कल्पना करें कि हमारे ये छोटे-छोटे व्यापारी और दुकानदार खुद के जीवन का रिस्क न लेते और रोजमर्रा की जरूरत का सामान न पहुंचाते तो क्या होता?"

उन्होंने आगे लिखा- "छोटे-छोटे दुकानदारों ने पूरी सामाजिक व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. समाज और देश इनके इस योगदान को हमेशा याद रखेगा. मैं जानता हूं कि खुद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना और दूसरों से इसका पालन करवाना चुनौतीपूर्ण है."





पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि- "भविष्य में भी दुकानें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए चलें, हमें यह सुनिश्चित करना है. संकट की घड़ी में इस योगदान के लिए सभी दुकानदार और व्यापारी बधाई के पात्र हैं."

पीएम ने कहा विश्व को नए मॉडल की जरूरत
इससे पहले मोदी ने रविवार को ही लिख अपने लेख में कहा कि कोरोना संकट से यह अहसास हो गया है कि दुनिया को नए बिजनेस मॉडल्स की जरूरत है और लोगों को पांच स्वर अक्षरों के आधार पर अनुकूलता, दक्षता, समावेशिता, अवसर और सार्वभौमिकता के जरिए नए कारोबार एवं कार्य संस्कृति को आगे बढ़ाना चाहिए.

पीएम मोदी ने ये भी कहा कि कोविड-19 (COVID-19) हमले से पहले जाति, धर्म, रंग, समुदाय, भाषा और सीमाएं नहीं देखता है. इसलिए हमारी प्रतिक्रिया और आचरण में एकता और भाईचारे को तवज्जो दी जानी चाहिए. हम इसमें एक साथ हैं.

ये भी पढ़ें-
कोरोना धर्म-जाति नहीं देखता, चुनौती से निपटने को एकता-भाईचारा जरूरी: PM मोदी

कोरोना वायरस: PM मोदी ने कहा- दुनिया को नई कार्य संस्कृति दे सकता है भारत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज