भारत में एफ-16 प्लांट डालने पर विचार कर रहा लॉकहीड मार्टिन

भारत में एफ-16 प्लांट डालने पर विचार कर रहा लॉकहीड मार्टिन
सांकेतिक तस्वीर Image: Lockheed Martin

पिछले साल टाटा और लॉकहीड ने घोषणा की थी कि यदि भारतीय वायुसेना एफ-16 ब्लॉक 70 हेलिकॉप्टर का चुनाव करती है तो वह दोनों मिलकर इसका भारत में ही विनिर्माण करेंगे.

  • Share this:
लॉकहीड मार्टिन एफ-16 विमानों के लिए भारत में करीब 20 बिलियन डॉलर के संभावित निर्यात पर विचार कर रहा है. लॉकहीड भारतीय के सेना के बड़े सैन्य ऑर्डर को हासिल करने की इच्छा जताई है. अगर इसे अमली जामा पहनाया जाता है तो अमेरिकन डिफेंस फर्म की प्रतिस्पर्धा बोइंग एफ/ए-18, साब की ग्रीपेन, दैसॉ के राफेल और यूरोफाइटी टाइफून से करना होगा.

लॉकहीड मार्टिन ने संयुक्त राज्य अमेरिका से अपनी एफ -16 प्रोडक्शन लाइन को भारत में ट्रांसफर करने की पेशकश की है. यह प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के मेक-इन-इंडिया प्रोजेक्ट की कामयाबी के तौर पर देखा जा सकता है. अगर ऐसा होता है तो डिफेंस इंडस्ट्री में नए रोजगार पैदा होंगे और हजारों इंजीनियरों को बेहतर अवसर मिलेगा.

लॉकहीड के बिजनेस रणनीतिकार विवेक लाल ने बताया कि यह फर्म एफ -16 के लिए भारत को एकमात्र वैश्विक उत्पादन केंद्र बनाएगी जो न केवल भारतीय सेना की जरूरतों को पूरी करेगा बल्कि विदेशी बाजारों पर भी पकड़ बनाएगा.



विवेक लाल ने कहा, 'हमें भारत के बाहर से अभी 200 एयरक्राफ्ट की डिमांड है. इनके लेनदेन की कीमत 20 बिलियन डॉलर से अधिक हो सकती है.' बहरीन और स्लोवाकिया ने एफ-16 ब्लॉक 70 को चुना है, जिसे भारत को ऑफर किया गया था. उन्होंने कहा, 'हम बुल्गेरिया के अलावा 10 अन्य देशों के साथ भी बातचीत कर रहे हैं.'



बता दें तमिलनाडु में डिफेंस गलियारे के उद्घाटन के बाद रक्षा क्षेत्र की अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने अपने एफ-16 लड़ाकू विमान का उत्पादन भारत में उसकी वायुसेना की जरूरतों के अनुसार करने का प्रस्ताव रखा था.

(यह भी पढ़ें- भारत में 'स्‍पेशल' फाइटर प्‍लेन बनाना चाहती है अमेरिकी दिग्‍गज लॉकहीड मार्टिन)

उन्होंने कहा, ‘भारत को जिस लड़ाकू विमान की पेशकश की जा रही है वह सर्वश्रेष्ठ लड़ाकू विमान है.’ उन्होंने कहा कि एफ-16 के तीनों संस्करण एक इंजन वाले हैं. भारत केंद्रित प्रस्तावित परियोजना में इस्तेमाल की जाने वाली अधिकांश प्रणालियां एफ-22 और एफ-35 से सीखी गयी बातों पर आधारित होंगी.

पिछले साल टाटा और लॉकहीड ने घोषणा की थी कि यदि भारतीय वायुसेना एफ-16 ब्लॉक 70 हेलिकॉप्टर का चुनाव करती है तो वह दोनों मिलकर इसका भारत में ही विनिर्माण करेंगे.
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास,सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading