• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • गांधी पर विवादित बयान : साध्वी प्रज्ञा, अनंतकुमार हेगड़े और नलिन कतील को BJP ने दिया नोटिस

गांधी पर विवादित बयान : साध्वी प्रज्ञा, अनंतकुमार हेगड़े और नलिन कतील को BJP ने दिया नोटिस

अमित शाह (फ़ाइल फोटो)

अमित शाह (फ़ाइल फोटो)

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर कहा- 'विगत 2 दिनों में अनंतकुमार हेगड़े, प्रज्ञा सिंह और नलीन कटील के जो बयान आये हैं वो उनके निजी बयान हैं, उन बयानों से भारतीय जनता पार्टी का कोई संबंध नहीं है.'

  • Share this:
    भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रपति महात्मा गांधी पर विवादित बयान देने के मामले में पार्टी के तीन नेताओं को नोटिस दिया है. बीजेपी ने जिन नेताओं को नोटिस दिया है उनमें  भोपाल से बीजेपी कैंडिडेट साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, अनंतकुमार हेगड़े और एमपी के मीडिया संयोजक नलिन कतील का नाम शामिल है.

    इस मुद्दे पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी टिप्पणी की है. शुक्रवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा- 'विगत 2 दिनों में अनंतकुमार हेगड़े, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और नलीन कटील के जो बयान आये हैं वो उनके निजी बयान हैं, उन बयानों से भारतीय जनता पार्टी का कोई संबंध नहीं है.'

    शाह ने लिखा- 'इन लोगों ने अपने बयान वापिस लिए हैं और माफ़ी भी मांगी है। फिर भी सार्वजनिक जीवन तथा भारतीय जनता पार्टी की गरिमा और विचारधारा के विपरीत इन बयानों को पार्टी ने गंभीरता से लेकर तीनों बयानों को अनुशासन समिति को भेजने का निर्णय किया है.'

    शाह ने ट्वीट किया- 'अनुशासन समिति तीनों नेताओं से जवाब मांगकर उसकी एक रिपोर्ट 10 दिन के अंदर पार्टी को दे, इस तरह की सूचना दी गयी है.'

    \

    प्रज्ञा का यह था बयान

    बता दें भोपाल से बीजेपी  की उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ने पहले राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को 'देशभक्त' बताया और विवाद के बाद माफी भी मांग ली.  गुरुवार को प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे को देशभक्‍त बताया था. प्रज्ञा ने कहा था कि 'नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे.' प्रज्ञा ने कहा था कि' नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांक कर देखें. ऐसे लोगों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा.'

    यह भी पढ़ें: MP बीजेपी प्रवक्ता का विवादित बयान, कहा-गांधी जैसे करोड़ों, हमारे नहीं पाकिस्तान के राष्ट्रपिता

    हालांकि देर रात उन्होंने अपने इस बयान पर माफी मांग ली. प्रज्ञा ने ट्वीट किया- 'मैं नाथूराम गोडसे के बारे में दिये गए मेरे बयान के लिये देश की जनता से माफ़ी माँगती हूँ . मेरा बयान बिलकुल ग़लत था. मैं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का बहुत सम्मान करती हूँ.'

    हेगड़े ने कहा था- 

    वहीं  केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने ट्वीट किया था कि गांधी के प्रति नजरिया बदलने की जरूरत है. थोड़ी देर बाद यह कहते हुए सारे ट्वीट्स हटा लिए गए कि हेगड़े का अकाउंट हैक हो गया था.



    वहीं बीजेपी नेता नलिन कतील ने गोडसे की तुलना पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी से की थी. उन्होंने कहा था कि 'गोडसे ने एक को मारा, कसाब ने 72 को मारा, राजीव गांधी ने 17 हजार को मारा.'
    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज