चौकीदार चोर है के नारे पर राहुल को नहीं मिला वरिष्ठ नेताओं का समर्थन : रिपोर्ट

इस चुनाव में कांग्रेस को राजस्थान में एक भी सीट नहीं मिल पाई है तो मध्यप्रदेश में एक और छत्तीसगढ़ में सिर्फ दो सीटें मिली हैं.

News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 2:52 PM IST
चौकीदार चोर है के नारे पर राहुल को नहीं मिला वरिष्ठ नेताओं का समर्थन : रिपोर्ट
(AP Photo/Altaf Qadri)
News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 2:52 PM IST
लोकसभा चुनाव 2019 में मिली हार के बाद कांग्रेस में मंथन का दौर जारी है. कांग्रेस की वर्किंग कमिटी की बैठक में राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश तो कर ही दी साथ ही साथ तीन वरिष्ठ नेताओं को आईना भी दिखाया. इस बैठक में यह बात भी सामने आई कि जिस 'चौकीदार चोर है' के नारे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चुनावी रण में उतरे थे, इसी पर उन्हें पार्टी नेताओं का साथ नहीं मिला.

प्रियंका ने CWC की बैठक में कहा कि राहुल को वरिष्ठ नेतृत्व से चौकीदार चोर है के कैंपेन में सपोर्ट नहीं मिला. अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, बैठक में राहुल ने पूछा कि कितने लोगों ने चौकीदार चोर है का नारा उठाया था, इस पर 'कुछ ही नेताओं ने हाथ उठाया.' राहुल के साथ उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी रहीं.



नाखुश थे राहुल

रिपोर्ट के अनुसार एक नेता ने कहा, 'वह (राहुल) आहत और असहाय महसूस कर रहे होंगे. राहुल का मूल्यांकन स्पष्ट था. वह अपने ‘चौकीदार चोर है’ कैंपेन पर वरिष्ठ नेताओं से मिले समर्थन की कमी से नाखुश थे. उन्होंने पिछले दिनों हममें से कुछ लोगों के साथ यह बात साझा की थी. '

यह भी पढ़ें: कांग्रेस की हार के बाद अब महात्मा गांधी की राह पर चलना चाहते हैं राहुल गांधी!

बता दें इस चुनाव में कांग्रेस को राजस्थान में एक भी सीट नहीं मिल पाई है तो मध्यप्रदेश में एक और छत्तीसगढ़ में सिर्फ दो सीटें मिली हैं. बैठक में राहुल गांधी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ सहित कुछ बड़े क्षेत्रीय नेताओं का जिक्र करते हुए कि इन नेताओं ने बेटों-रिश्तेदारों को टिकट दिलाने के लिए जिद की और उन्हीं को चुनाव जिताने में लगे रहे और दूसरी जगहों पर ध्यान नहीं दिया.

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि वह 'पूरी तरह से हैरान' हैं और चुनाव में जो कुछ भी हुआ है, उसके लिए कोई सामान्य स्पष्टीकरण नहीं है. पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने राहुल के इस्तीफे पर कहा कि  इसके बाद 'पार्टी में कोई अनुशासन नहीं रहेगा.'
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...