बंगाल में आखिरी चरण की वोटिंग में भी हिंसा, रक्षामंत्री बोलीं- नरसंहार करा सकती है TMC

बीजेपी ने आरोप लगाया कि टीएमसी कार्यकर्ताओं को हार दिख रही है, इसलिए बौखलाहट में वो हिंसा पर उतर आए हैं. दूसरी तरफ टीएमसी ने उलटे बीजेपी पर वार करते हुए कहा है कि वह राज्य में शांतिपूर्ण चुनाव नहीं चाहती.

News18Hindi
Updated: May 19, 2019, 4:48 PM IST
बंगाल में आखिरी चरण की वोटिंग में भी हिंसा, रक्षामंत्री बोलीं- नरसंहार करा सकती है TMC
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी पर जमकर प्रहार किए.
News18Hindi
Updated: May 19, 2019, 4:48 PM IST
पश्चिम बंगाल में सातवें और आखिरी दौर के मतदान के दौरान भी कई इलाकों में जम कर हिंसा हुई. तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने कई जगह जमकर हंगामा किया. जादवपुर, बासीरहाट और बारासात में टीएमसी-बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प हुई. कुछ पोलिंग बूथ पर तो खुद उम्मीदवार सीआरपीफ के जवानों से भिड़ गए.

इस बीच बीजेपी ने आरोप लगाया कि टीएमसी कार्यकर्ताओं को हार दिख रही है, इसलिए बौखलाहट में वो हिंसा पर उतर आए हैं. दूसरी तरफ टीएमसी ने उलटे बीजेपी पर वार करते हुए कहा है कि वह राज्य में शांतिपूर्ण चुनाव नहीं चाहती.



बंगाल में नरसंहार करा सकती है टीएमसी
केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि नतीजे पक्ष में न रहने पर ममता बनर्जी नरसंहार करा सकती हैं. उन्होंने कहा, 'बंगाल की सीएम शुरू से धमकी देती आर रही हैं. इसलिए हमें डर है कि आज पोलिंग खत्म होने के बाद से टीएमसी का नरसंहार उधर शुरू हो सकता है. इसलिए हमारी मांग है कि चुनाव आचार संहिता तक केंद्रीय बलों को वहीं रोका जाए.'

सुरक्षाकर्मियों से भिड़े टीएमसी कार्यकर्ता
भाटपाड़ा से टीएमसी के उम्मीदवार मदन मित्रा की एक बूथ पर सुरक्षाकर्मियों के साथ झड़प हो गई. कहा जा रहा है कि सुरक्षाकर्मी मित्रा को बूथ पर जाने से रोक रहे थे. जिसके बाद दोनों के बीच तीखी नोकझोंक हो गई. मित्रा पर सुरक्षाकर्मियों ने गाली देने का भी आरोप लगाया.

देखें वीडियो
Loading...




इन जगहों पर हुई हिंसा
बारासत से टीएमसी की उम्मीदवार काकोली घोष दस्तीदार की भी सीआरपीएफ के जवानों से भिंड़त हो गई. काकोली ने आरोप लगाया कि सीआरपीएफ के जवान मतदाताओं को बीजेपी को वोट देने के लिए प्रभावित कर रहे हैं. उन्होंने जवानों पर तृणमूल के झंडे का अपमान करने का भी आरोप लगाया. हालांकि, जवानों ने इन आरोपों को झूठा करार दिया.

देखें वीडियो



उधर, राज्य के ही जादवपुर में बीजेपी प्रत्याशी अनुपम हाजरा ने आरोप लगाया कि 'टीएमसी के कार्यकर्ता मुंह ढककर मतदान कर रहे हैं, जिससे उनकी पहचान कर पाने में मुश्किल हो रही है. जब हमने इस पर सवाल किया तो टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बवाल शुरू कर दिया.'

अनुपम हाजरा ने यह आरोप भी लगाया कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला करने की कोशिश की और उनकी कार तोड़ दी. अनुपम ने कहा कि टीएमसी ऐसा इसलिए कर रही है, क्योंकि उन्हें हार का डर है. मेरी टीम पर हमला हुआ है. हमारे पोलिंग एजेंट्स को भी धमकी दी जा रही है.

ये भी पढ़ें:

पत्थर फेंकने के लिए हुई थीं बदनाम, आज बन गई है फुटबॉलर

नीतीश बोले- केंद्र में बनेगी NDA की सरकार लेकिन...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...