एक सशक्त राष्ट्र की नींव आपके वोट पर टिकी है

News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 4:19 PM IST
News18Hindi
Updated: May 17, 2019, 4:19 PM IST
भारत में लोकसभा चुनाव 2019 जारी है. सात चरणों में हो रहे इन चुनावों में छठे चरण का मतदान 12 मई 2019 को पूरा हुआ.

हम, भारतीय नागरिक और मतदाता चुनाव के समय बड़ी भूमिका निभाते हैं. प्रत्येक नागरिक के वोट राष्ट्र की नियति लिखने में अहम भूमिका अदा करती है. भारत का भविष्य केवल राजनीतिक दलों और सरकार के कंधों पर नहीं, बल्कि उसके मतदाताओं के कंधों पर टिका हुआ है.



प्रत्येक भारतीय वोटर का ये अधिकार और कर्तव्य है कि वो अपना वोट डालें और एक ऐसी सरकार को सत्ता में लाएं जो देश और अपने नागरिकों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए काम कर सकें.

न्यूज 18 इंडिया के अमिश देवगन हर एक वोट के मूल्य पर चर्चा करते हैं. वह सोनल मानसिंह, सुनील अरोड़ा, दिलीप चेरियन, अद्वैत कालरा और शिवानी वज़ीर पसरीचा जैसे जीवन के सभी क्षेत्रों की प्रसिद्ध सार्वजनिक हस्तियों के एक प्रतिष्ठित पैनल के साथ लोगों से राष्ट्र को आगे ले जाने में उनके एकल वोट के योगदान को समझने का आग्रह करते हैं.

आपके अकेले वोट का मूल्य - एक विश्लेषण

प्रत्येक भारतीय नागरिक का वोट राष्ट्र के भविष्य को प्रभावित करता है. हर मतदाता को अपना वोट डालना आवश्यक और अनिवार्य है.

प्रत्येक मतदान बच्चों के लिए शिक्षा प्रदान करने में मदद करता है. यह ऐसे लगभग 4% बच्चों को प्राथमिक शिक्षा दे सकता है जो मुख्य धारा की शिक्षा से वंचित हैं.
Loading...

-50 मिलियन से अधिक लोग जो गरीबी रेखा के नीचे हैं, लाभान्वित होंगे.

-आपका हर वोट रोगियों और रोगग्रस्तों को बेहतर चिकित्सा देखभाल का मार्ग प्रशस्त करेगा.

-पानी, बिजली और अन्य बुनियादी ढांचे जैसे रोडवेज, आवास आदि को बेहतर बनाया जा सकता है.

-आपके एक वोट में एक गेमचेंजर होने और चुनावी नतीजों को बदलने की शक्ति है.

-भारत जैसे लोकतंत्र में मतदाता सबसे मजबूत कड़ी है.

नए और पहली बार के मतदाताओं को सलाह

नए और पहली बार मतदाता अपने मत के रूप में महान शक्ति का प्रयोग करते हैं. उनका वोट उनकी आवाज़ है और उन्हें ये सुनिश्चित करना चाहिए कि इसे सुना जाए.

उनसे अनुरोध किया जाता है कि अंतिम मिनट की उलझन से बचने के लिए समय रहते ऑनलाइन जाएं और देखें कि उनका नाम मतदाता सूची में है या नहीं.

मतदाता जो अपने गृहनगर से दूर हैं और काम या अध्ययन के कारणों से देश के विभिन्न हिस्सों में बसे हैं, उन्हें अपना पता बदलने की प्रक्रिया का पता लगाना चाहिए और अपने वर्तमान निवास के स्थान पर अपना वोट डालना चाहिए.

उनसे आग्रह है कि वे इस चुनाव में पूरे मनोयोग से भाग लें और ज़िम्मेदार नागरिक के रूप में अपना वोट डालें.

अगर आप किसी राजनेता या राजनीतिक पार्टी के पक्षधर नहीं हैं तो क्या करें?

कई बार मतदाता का चुनावों में खड़े उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों से मोहभंग हो जाता है. उस मामले में सोनल मानसिंह का कहना है कि सबसे अच्छी सलाह उस उम्मीदवार और पार्टी को वोट देना है जो आपको प्रेरित करता है और आपको एक बेहतर सरकार की उम्मीद देता है. वैकल्पिक रूप से आप उस व्यक्ति की पहचान भी कर सकते हैं जो राष्ट्र से प्रेरित है और एक कट्टर देशभक्त है. ऐसे उम्मीदवार को वोट दें.

मतदान को पूजा समान मानें और अपना वोट डालने के लिए पूरा-पूरा उत्साह दिखाएं.

मतदाताओं को संदेश

आपकी उदासीनता का परिणाम एक उदासीन सरकार होगी. अद्वैत कालरा लोगों से एक स्थिर, मजबूत और सक्षम सरकार के लिए वोट करने का आग्रह करते हैं जो 5 वर्षों के पूर्ण कार्यकाल को सफलतापूर्वक जारी रखने में सक्षम हो. वह लोगों को सचेत करती हैं कि वे यह याद रखें कि मतदान एक बहुत ही महंगी प्रक्रिया है जो देश के खजाने को खाली कर देती है.

चरण 1 में सभी छह चरणों के बीच सबसे अधिक मतदान हुआ. इस चरण में 69.50% मतदान हुआ. चरण 2 में यह 69.44% था, यह चरण 3 में 68.40% और चरण 4 में 65.51% था. चरण 5 और चरण 6 में, मतदान क्रमशः 65% और 63.48% था.

बटन दबाओ देश बनाओ नेटवर्क18 की एक पहल है, जो आरपी-संजीव गोयनका समूह द्वारा प्रस्तुत की गई है, जो हर भारतीय से चल रहे आम चुनावों में मतदान करने का आग्रह करती है. सोशल मीडिया पर हैशटैग #ButtonDabaoDeshBanao का उपयोग करके  चर्चा में शामिल हों.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार