प्रज्ञा ठाकुर को ब्रेस्ट कैंसर की वजह से मिली थी जमानत, लेकिन लड़ रही हैं चुनाव

बॉम्बे हाईकोर्ट के जमानती आदेश के अनुसार प्रज्ञा ठाकुर ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रही थीं और वह चलने में भी असमर्थ थीं.

News18Hindi
Updated: April 18, 2019, 7:47 PM IST
प्रज्ञा ठाकुर को ब्रेस्ट कैंसर की वजह से मिली थी जमानत, लेकिन लड़ रही हैं चुनाव
भोपाल में बीजेपी कार्यालय जातीं प्रज्ञा ठाकुर.
News18Hindi
Updated: April 18, 2019, 7:47 PM IST
बीजेपी ने बुधवार को साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भोपाल से लोकसभा चुनावों के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया. गौरतलब है कि कि साध्वी प्रज्ञा 2008 में हुए मालेगांव विस्फोट की मुख्य आरोपियों में से एक थीं. हालांकि मकोका के आरोपों से साध्वी प्रज्ञा को बरी कर दिया गया था, लेकिन इससे जुड़ा मामला अभी भी विचाराधीन है. जिसकी सुनवाई बॉम्बे हाईकोर्ट में चल रही है. इस दौरान चौंकाने वाली बात जो सामने आई है वह ये है कि साध्वी प्रज्ञा को स्वास्‍थ्य कारणों के चलते 2017 में बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत दी थी. जमानती आदेश के अनुसार उस दौरान प्रज्ञा ठाकुर ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रही थीं और वह चलने में भी असमर्थ थीं. ऐसे में उन्हें हाईकोर्ट से जमानत मिली थी। लेकिन अब आम चुनावों में उनके उम्मीदवार के तौर पर मैदान में होने के चलते इसी बात को लेकर उन पर निशाना साधा जा रहा है। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर उब्दुल्ला ने कहा कि ब्रेस्ट कैंसर के चलते वे चलने में भी असमर्थ थीं और इसी बात पर जमानत ली थी लेकिन अब वे चुनाव लड़ रही हैं, ऐसा कैसे?

बॉम्बे हाईकोर्ट के इस बेल ऑर्डर के अनुसार आरोपी की तरफ से दिया गया मेडिकल सर्टिफिकेट यह बताता है कि वह ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित हैं और बिना सहारे के चलने में भी असमर्थ हैं. उनका इलाज आयुर्वेदिक अस्पताल में किया जा रहा है लेकिन कोर्ट का यह मानना हैं कि वहां उनका पूरी तरह से इलाज नहीं हो सकेगा. इसके बाद कोर्ट ने कहा कि इस आधार पर साध्वी को जमानत दी जा सकती है. इसके लिए उन्हें 5 लाख रुपये का बेल बॉन्ड भरना होगा.

ये भी पढ़ें: साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी के खिलाफ EC में शिकायत, चुनाव लड़ने से रोकने की मांग

इसको लेकर उमर अब्दुल्ला ने बुधवार को टवीट् कर कहा कि ऐसा कोई जिस पर आतंकवाद का आरोप हो और वह स्‍वास्‍थ्य कारणों के चलते जमानत पर है, वह इस तेज गर्मी में कैसे चुनाव लड़ने जैसा दुरूह काम कर सकता है.

गौरतलब है कि साध्वी ने गुरुवार को ही मीडिया से बातचीत में कहा था कि यह एक बड़ी जिम्मेदारी है और वह इसको निभाने के लिए वह पूरी तरह से तैयार हैं. साध्वी ने कहा कि वह चुनाव जरूर लड़ेंगी और इसे जीतेंगी भी.

ये भी पढ़ें: साध्वी को जिताने के लिए BJP ने कसी कमर, शिवराज ने सभी से एकजुट होने का किया आह्वान

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: April 18, 2019, 5:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...