Lok Sabha Election 2019: बस एक क्लिक में जाने लोकसभा चुनाव के जादुई आंकड़ों का फॉर्मूला, News18 ‘मैजिक-वॉल’ पर

Lok Sabha Election Result 2019 (लोकसभा चुनाव रिजल्ट २०१९): News18 की मैजिक वॉल की खासियत ये है कि ये एक डेटा बेस्ड एनिमेटेड ग्राफिक्स वॉल है जो आपके इशारे से चलती है. इसके डेटा में वो सारी जानकारियां दर्ज हैं जिनकी बदौलत आप ये आसानी से जान सकते हैं कि कहां किस वजह से कौन उम्मीदवार जीता, और किस वजह से किस पार्टी की हुई हार.

News18Hindi
Updated: May 18, 2019, 9:23 PM IST
News18Hindi
Updated: May 18, 2019, 9:23 PM IST
लोकसभा चुनाव के नतीजे जानने के लिए आपको न्यूज़ 18 से बेहतर जगह कहीं नहीं मिल सकती. इसकी बड़ी वजह ये है कि देश के चप्पे-चप्पे से एक-एक सीट और एक-एक वोट का पक्का हिसाब बताएगी मैजिक वॉल. केंद्र में सरकार बनाने के लिए 272 अंकों के जादुई आंकड़े की गिनती बताने और समीकरण समझाने के लिए जादुई दीवार आपके सामने होगी जहां सिर्फ माउस के एक क्लिक से पिछले चुनावों की जन्मकुंडली खुल जाएगी.

न्यूज़ 18 की मैजिक वॉल की खासियत ये है कि ये एक डेटा बेस्ड एनिमेटेड ग्राफिक्स वॉल है जो आपके इशारे से चलती है. इसके डेटा में वो सारी जानकारियां दर्ज हैं जिनकी बदौलत आप ये आसानी से जान सकते हैं कि कहां किस वजह से कौन उम्मीदवार जीता, तो कहां किस वजह से कौन पार्टी हारी. देश की 542 लोकसभा सीटों के एक-एक विधानसभा क्षेत्र में मौजूद जातीय समीकरण और वोट प्रतिशत का पक्का हिसाब इस दीवार पर दर्ज है. न्यूज़ 18 के सभी डिजिटल और टीवी प्लेटफार्म पर आप इस मैजिक वॉल को देख सकते हैं.



News18 Creative


साल 2009 और साल 2014 के लोकसभा चुनावों को लेकर किसी भी तरह की जानकारी के लिये न्यूज़ 18 की ये मैजिक वॉल अद्भुत है. आप अगर किसी लोकसभा चुनाव के नतीजे जानना चाहते हैं तो यहां आपको एक एक सीट और एक एक गठबंधन की जीती हुई सीट और उसे मिला वोट प्रतिशत भी दिखाई देगा. मैजिक वॉल में राज्यों को छह संभागों में बांटा गया है. मध्य क्षेत्र, पूर्व क्षेत्र, उत्तर क्षेत्र, दक्षिण क्षेत्र, उत्तर-पूर्व क्षेत्र और पश्चिम क्षेत्र. इससे आप किसी भी क्षेत्र में जाकर ये देख सकते हैं कि यहां लोकसभा की लड़ाई में चुनावी गणित क्या रहा.



मैजिक वॉल एक तरह से राजनीतिक दलों की रणनीति का वॉर-रूम है जहां आकर आपको पता चल सकता है कि देश में कहां-कहां हिंदी भाषी तो दूसरे समुदायों के वोटरों का प्रभाव है. मैजिक-वॉल ने गहन रिसर्च के बाद वो डेटा तैयार किया है जिसमें ये पता चलता है कि देश के किस हिस्से में दलितों की सबसे ज्यादा आबादी है तो कहां मुस्लिम वोट चुनाव पर गहर असर डालते आए हैं.

मसलन जैसे आप साल 2014 के लोकसभा चुनाव में उत्तर-प्रदेश में देखना चाहते हैं कि यहां कौन सी ऐसी सीटें थीं जहां मुस्लिम मतदाता सबसे ज्यादा थे और यहां एनडीए और दूसरे दलों को कितनी सीटें मिलीं तो आप देखेंगे कि राज्यों के ऑप्शन में क्लिक करने के बाद जब आप उत्तर-प्रदेश चुनते हैं और फिर फिल्टर करने के बाद मुस्लिम 20% के ऑप्शन पर क्लिक करते हैं तो आप देखेंगे कि यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से 35 सीटें ऐसी रहीं जहां कि मुस्लिम वोटर 20 प्रतिशत से ज्यादा था. यहां एनडीए ने 34 सीटें जीतीं और समाजवादी पार्टी केवल 1 सीट ही जीत सकी.
Loading...

यह भी पढ़ें:  Exit Poll 2019- 28 राज्य, 199 सीट और सवा लाख मतदाताओं से ‘मन की बात’, न्यूज़18-Ipsos एग्जिट पोल देगा सबसे सटीक अनुमान



इसी तरह हर राज्य, हर क्षेत्र, हर सीट, हर उम्मीदवार के आंकड़े जुटाए जा सकते हैं और ये पता चल जाता है कि किस इलाके में किस पार्टी को किस जाति-विशेष से कितने वोट मिले. शहरी और ग्रामीण इलाकों में चुनाव की स्थिति और आदिवासी बहुल इलाकों की सीटवार जानकारी दी गई है. साथ ही इस मैजिक वॉल में आप ये भी देख सकते हैं कि पिछले चुनावों में कहां कितनी करीबी फाइट रही. इसके लिए खासतौर पर दो फीसदी वोट का मार्जिन रखा गया है और ये बताया गया है कि साल 2009 और 2014 में कहां बेहद करीबी मामले में कौन सा उम्मीदवार जीता या हारा.



राजनीतिक दलों की मजबूती और मौजूदगी के लिहाज से मैजिक-वॉल ने देश के उन इलाकों को चिन्हित किया है जहां कि कांग्रेस, बीजेपी और क्षेत्रीय दलों का अधिकार देखा जाता है. दिलचस्प आंकड़ों और जादुई अंदाज की वजह से इस एनिमेटेड ग्राफिक्स प्रज़ेंटेशन का नाम मैजिकल-वॉल रखा गया है. अब तो आपको यकीन हो गया न कि ये वाकई ‘मैजिक-वॉल’ है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...