कोरोना संकट के बीच क्या होगा संसद का शीतकालीन सत्र? ओम बिरला ने दिया ये जवाब

लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला
लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला

लोकसभा (Lok Sabha) अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने कहा, अगर सरकार शीतकालीन सत्र आयोजित करने का फैसला लेती है तो कोरोना संबंधी सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2020, 7:09 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना (Covid-19) के बढ़ते मामलों के बीच इस बार संसद के शीतकालीन सत्र (Winter Session) को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं. बीच में ऐसी भी खबरें आईं, जिसमें चर्चा थी कि शीतकालीन सत्र को स्थगित कर दिया गया है, लेकिन अब लोकसभा (Lok Sabha) अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने कहा है ​कि इस पर फैसला सरकार करेगी. उन्होंने कहा कि अगर सरकार शीतकालीन सत्र आयोजित करने का फैसला लेती है तो कोरोना संबंधी सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए जाएंगे.

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए ओम बिरला ने कहा, संसद सत्र कराने की तैयारी लोकसभा सचिवालय में हमेशा रहती है. कोरोना महामारी के बीच इस बार शीतकालीन सत्र बुलाया जाएगा या नहीं इस पर फैसला संसदीय मामलों से संबंधित कैबिनेट समिति (सीसीपीए) करेगी. सीसीपीए इसके लिए सभी राजनीतिक दलों से बात करेगी उसके बाद ही कोई निर्णय लिया जा सकेगा.

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना का संकट एक बार फिर से बढ़ने लगा है. यह हर किसी के लिए बड़ी चिंता का विषय बन चुका है. अगर संसद का शीतकालीन सत्र बुलाया जाता हे कि कोरोना संबंधी सुरक्षा के व्यापक इंतजाम करने होंगे. उन्होंने कहा जब कभी बजट सत्र होगा तो हम सुरक्षा के व्यापक इंतजाम के साथ सत्र चलाएंगे. इस संबंध में सीसीपीए जब कभी भी फैसला लेगी इसके बारे में मीडिया को जानकारी दी जाएगी.
इसे भी पढ़ें :- हिमाचल प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र 7 से 11 दिसंबर के बीच होगा : विधानसभाध्यक्ष



मानसून सत्र भी 8 दिन पहले हो गया था स्थगित
गौरतलब है कि बीते सितंबर महीने में संसद का मानसून सत्र अपने निर्धारित समय से करीब आठ दिन पहले अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया था. छोटी अवधि होने के बावजूद संसद के दोनों सदनों में सत्र के दौरान 25 विधेयकों को पारित किया गया. राज्यसभा में हंगामे के कारण आठ विपक्षी सदस्यों को रविवार को शेष सत्र के लिए निलंबित कर दिया गया था. राज्यसभा और लोकसभा दोनों सदनों ने लगातार दस दिनों तक काम किया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज