लाइव टीवी
Elec-widget

प्रज्ञा ठाकुर ने संसद में गोडसे को बताया देशभक्त, मिनिस्टर बोले- उधम सिंह के नाम पर थी आपत्ति

भाषा
Updated: November 27, 2019, 9:09 PM IST
प्रज्ञा ठाकुर ने संसद में गोडसे को बताया देशभक्त, मिनिस्टर बोले- उधम सिंह के नाम पर थी आपत्ति
प्रज्ञा ठाकुर ने फिर गोडसे को बताया देशभक्‍त

बीजेपी की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) ने बुधवार को नाथराम गोडसे (Nathuram Godse) को एक बार फिर देशभक्‍त बताया. इसपर कांग्रेस (Congress) सदस्‍यों ने सदन में जमकर विरोध किया.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) ने बुधवार को लोकसभा (Loksabha) में एसपीजी संशोधन विधेयक (SPG Bill) पर चर्चा के दौरान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के हत्यारे नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) का हवाला 'देशभक्त' के तौर पर दिया. जिसको लेकर कांग्रेस (Congress) सदस्यों ने कड़ा विरोध दर्ज कराया.

सदन में जब द्रमुक (DMK) सदस्य ए राजा ने चर्चा में भाग लेते हुए नकारात्मक मानसिकता को लेकर गोडसे का उदाहरण दिया तो प्रज्ञा अपने स्थान पर खड़ी हो गईं और कहा कि 'देशभक्तों का उदाहरण मत दीजिए'. हालांकि हंगामा होने के बाद स्पीकर ने प्रज्ञा के इस कमेन्ट को सदन की कार्यवाही से हटवा दिया.

बीजेपी के मंत्री ने किया बचाव
प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान पर विवाद पैदा होने के बाद पार्लियामेंट अफेयर्स मिनिस्टर प्रहलाद जोशी बुधवार देर शाम उन्हें क्लीन चिट देते नज़र आए. जोशी ने कहा कि जब उन्होंने बयान दिया उनका माइक बंद था, उनकी आपत्ति शहीद उधम सिंह का नाम लेने पर थी. बाद में उन्होंने इस बारे में स्पष्टीकरण भी दिया था. उधर मीडिया ने जब प्रज्ञा सिंह से इस बयान पर जवाब मांगा तो उन्होंने पूरा बयान सुनने की नसीहत दे डाली.

 



बीजेपी प्रवक्ता ने कहा- ये देश का अपमान है
प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि पार्टी पहले ही प्रज्ञा ठाकुर के पहले बयान पर उन्हें नोटिस दे चुकी है. लेकिन प्रज्ञा द्वारा एक बार फिर से इस बयान को दोहराना बापू का अपमान तो है ही ये पार्टी का भी अपमान है. जीवीएल ने कहा कि इसे किसी को भी हल्के में नहीं लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर पार्टी के नेता अनुशासित नहीं रहेंगे तो कार्रवाई की जाएगी. जीवीएल ने कहा कि वे पूरे देश को आश्वासन देना चाहते हैं कि इस मामले में कार्रवाई होगी.

ए राजा का दावा- गोडसे पर ही थी आपत्ति
डीएमके नेता ए राजा ने प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बयान से जुड़े सवाल के जवाब में बताया- 'मैंने जैसे ही नाथूराम गोडसे का नाम लेकर कहा कि उन्होंने महात्मा गांधी की हत्या जैसा बर्बर काम किया था, साध्वी प्रज्ञा खड़ी हुईं और कहा कि वे एक देशभक्त थे. ये शर्मनाक है.'

 



बीजेपी सांसदों ने किया बैठने का इशारा
बता दें कि लोकसभा में भी प्रज्ञा के इस बयान के बाद कांग्रेस के कई सदस्यों ने आपत्ति जताई और यह आरोप लगाते हुए सुने गए कि उन्हें (प्रज्ञा) प्रधानमंत्री का संरक्षण मिला हुआ है. इस दौरान संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी भोपाल से भाजपा सदस्य प्रज्ञा को बैठने का इशारा करते नजर आए. वहीं कुछ और बीजेपी सांसदों ने भी उन्‍हें बैठने का इशारा किया. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कांग्रेस सदस्यों से बैठने की अपील करते हुए कहा कि सिर्फ ए राजा की बात रिकॉर्ड में जा रही है. गौरतलब है कि प्रज्ञा सिंह पहले भी गोडसे को 'देशभक्त' बता चुकी हैं जिसको लेकर विवाद खड़ा हो गया था.

 



साध्वी ने लोकसभा चुनाव में भी गोडसे को बताया था 'देशभक्त'
बता दें कि इससे पहले मई में लोकसभा चुनाव के दौरान प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को 'देशभक्त' बताया था. विपक्ष ने जब उनके इस बयान को लेकर काफी हंगामा किया तो बाद में उन्‍होंने माफी मांग ली. उस वक्‍त प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था, 'नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे.' प्रज्ञा ने कहा था कि' नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांक कर देखें. ऐसे लोगों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा.'

हालांकि उन्‍होंने इस मामले पर विवाद बढ़ने के बाद उसी दिन माफी मांग ली थी. प्रज्ञा ने ट्वीट किया था, 'मैं नाथूराम गोडसे के बारे में दिये गए मेरे बयान के लिये देश की जनता से माफ़ी मांगती हूं. मेरा बयान बिलकुल ग़लत था. मैं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का बहुत सम्मान करती हूं.'

पीएम मोदी ने कहा था कभी माफ़ नहीं कर पाऊंगा
बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर दिए गए विवादित बयानों पर कड़ा ऐतराज जताया था. एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार में पीएम मोदी ने कहा था कि वह साध्वी प्रज्ञा को कभी मन से माफ नहीं कर पाएंगे. मोदी ने कहा कि ऐसे सभी बयान पूरी तरह गलत हैं. उन्होंने कहा कि गांधी जी या गोडसे के बारे में बयानबाजी गलत है. उन्होंने कहा कि मैं चाहूं भी तो साध्वी को मन से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा.

साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की कमेटी में मिली जगह
अभी कुछ दिन पहले ही मध्य प्रदेश के भोपाल से भारतीय जनता पार्टी की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति के लिए नामित किया गया है. इस कमेटी की अगुवाई रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कर रहे हैं. प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता और दो बार के मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को करारी मात दी थी.

ये भी पढ़ें:  SPG बिल पर लोकसभा में अमित शाह बोले- राहुल गांधी ने 2,137 बार सुरक्षा नियमों का उल्लंघन किया

ये भी पढ़ें: नए मोटर कानून के बाद दुर्घटना से मौत में भारी कमी: सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 6:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...