खुशखबरी! पूरे उत्तर भारत में समय से पहले दस्तक दे सकता है मानसून

केरल में बारिश होने के बाद से अरब सागर में निम्न दबाव वाला क्षेत्र बना हुआ है.

News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 10:00 PM IST
खुशखबरी! पूरे उत्तर भारत में समय से पहले दस्तक दे सकता है मानसून
केरल में बारिश होने के बाद से अरब सागर में निम्न दबाव वाला क्षेत्र बना हुआ है.
News18Hindi
Updated: June 9, 2019, 10:00 PM IST
केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून के दस्तक देने के एक दिन बाद कई हिस्सों में रविवार को बारिश हुई. केरल में बारिश होने के बाद से अरब सागर में निम्न दबाव वाला क्षेत्र बना हुआ है. मौसम विभाग ने बताया कि अगले दो दिनों और उसके बाद यह निम्न दबाव वाला क्षेत्र और गहरा जाएगा और चक्रवात में बदल जाएगा.

विभाग ने दूर-दराज क्षेत्रों और लक्षद्वीप समूह में भारी बारिश और तटीय क्षेत्र में तूफान वाले मौसम की आशंका जताई है. विभाग ने 13 जून तक मछुआरों को समुद्र में मछली पकड़ने के लिए नहीं जाने की सलाह दी है.

विभाग ने शाम तीन बजे इस संबंध में बुलेटिन जारी करके बताया कि चक्रवात के प्रभाव की वजह से दक्षिणपूर्वी अरब सागर, लक्षद्वीप क्षेत्र और पूर्व-मध्य अरब सागर के ऊपर निम्न दबाव वाला क्षेत्र बन गया है.

वहीं महाराष्ट्र में मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि 11 जून और 12 के बीच भारत के पश्चिमी तट के पास अरब सागर में एक चक्रवात आ सकता है. चक्रवात राज्य के तट से लगभग 300 किमी दूर होगा. मौसम विशेषज्ञों के अनुसार इस समय में कोंकण के साथ मुंबई में मानसून प्रवेश करेगा. मौसम विज्ञान विभाग ने मछुआरों से 11-12 जून को अरब सागर में प्रवेश करने से बचने की अपील की है.

महाराष्ट्र के इसी चक्रवात के कारण दबाव बनने से उत्तर भारत में भी मानसून समय से पहले दस्तक दे सकता है.

मौसम विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर मलप्पुरम और कोझिकोड में 12 जून को भारी से भारी बारिश की आशंका जताई है. लगभग एक सप्ताह की अनुमानित देरी के बाद दक्षिण पश्चिमी मानसून ने केरल तट पर शनिवार को दस्तक दे दी.

दक्षिण पश्चिम मानसून ही उत्तर और मध्य भारत सहित देश के अधिकांश इलाकों में लगभग चार महीने तक चलने वाली बारिश के मौसम का वाहक माना जाता है. जिला कलेक्टर ने उन क्षेत्रों में लोगों को अलर्ट रहने को कहा है जहां पिछले साल मानसून के दौरान भूस्खलन की घटनाएं हुई थी.
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 9, 2019, 10:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...