होम /न्यूज /राष्ट्र /

लोग उन्हें किसी न किसी बात के लिए बुलाते रहेंगे: उपराष्ट्रपति नायडू की विदाई में PM मोदी

लोग उन्हें किसी न किसी बात के लिए बुलाते रहेंगे: उपराष्ट्रपति नायडू की विदाई में PM मोदी

राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू के विदाई समारोह में पीएम मोदी ने जमकर तारीफ की. (फोटो-ANI)

राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू के विदाई समारोह में पीएम मोदी ने जमकर तारीफ की. (फोटो-ANI)

पीएम मोदी ने कहा कि उपराष्ट्रपति के रूप में अपने चुनाव के दौरान उनका एक दुख संवैधानिक आवश्यकताओं के कारण पार्टी से इस्तीफा देने का था.

हाइलाइट्स

विदाई समारोह कार्यक्रम में पीएम मोदी ने एम वेंकैया नायडू से जुड़ी अपनी यादों के बारे में बताया.
पीएम मोदी ने कहा कि एम वेंकैया नायडू को लोग किसी न किसी काम से बुलाते रहेंगे.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि जहां तक वह निवर्तमान उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू को जानते हैं, उनकी विदाई संभव नहीं है क्योंकि लोग उन्हें किसी न किसी बात के लिए बुलाते रहेंगे. नायडू को विदाई देने के लिए संसद सदस्यों द्वारा संसद भवन परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अच्छे शब्दों का संग्रह नायडू की विरासत को आगे बढ़ाएगा, जिन्होंने हमेशा उच्च सदन और अन्यत्र मातृभाषा के इस्तेमाल को बढ़ावा दिया. पीएम मोदी ने कहा कि नायडू को केंद्र सरकार में शहरी विकास और ग्रामीण विकास दोनों विभागों को संभालने का अनूठा गौरव प्राप्त है. उन्होंने कहा कि शायद नायडू अकेले ऐसे व्यक्ति हैं जो राज्यसभा के सदस्य थे और इसके सभापति बने.

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि एम वेंकैया नायडू और मेरी बहुत बातचीत हुई. जब मैंने अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के दौरान पार्टी के लिए काम किया. वेंकैया जी कहा करते थे कि वे ग्रामीण विकास विभाग में काम करना चाहते हैं. उनमें इसके लिए जुनून था. पीएम मोदी ने कहा कि सदन में पर्दे के पीछे जो कुछ हुआ, उसकी उन्हें हमेशा जानकारी रही है. इस प्रकार, अध्यक्ष के रूप में, वह हमेशा जानते थे कि दोनों पक्षों से क्या आना है. यह अनुभव विपक्षी मित्रों के लिए चिंता का विषय बन जाता था. विदाई समारोह में पीएम मोदी ने कहा कि उपराष्ट्रपति के रूप में अपने चुनाव के दौरान उनका एक दुख संवैधानिक आवश्यकताओं के कारण पार्टी से इस्तीफा देने का था. लेकिन मुझे लगता है कि वेंकैया जी अपनी 5 साल की अनुपस्थिति को कवर करेंगे. सभी दिग्गज सदस्यों को प्रेरित करने, प्रोत्साहित करने और पुरस्कृत करने का उनका काम जारी रहेगा.

अपनी विदाई समारोह के दौरान एम वेंकैया नाडयू ने कहा कि मैं एक तरफ बहुत खुश हूं और दूसरी तरफ मुझे लगता है, मैं आप सभी को याद कर रहा हूं क्योंकि मैं 10 अगस्त से सदन की अध्यक्षता करने की स्थिति में नहीं रहूंगा. मैं हमेशा सदन का अभिवादन करते हुए ‘नमस्ते’ कहा करता था ‘ भारतीय परंपरा और संस्कृति में बहुत कुछ है. (इनपुट ANI से)

Tags: M Venkaiya Naidu, PM Modi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर