स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- भारत में बने सभी वेंटिलेटरों में बाइपेप मोड

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा सभी वेंटीलेटरों में बाइलेवल पॉजिटिव एयरवे प्रेशर  (बाइपेप) मोड है. (सांकेतिक तस्वीर)
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा सभी वेंटीलेटरों में बाइलेवल पॉजिटिव एयरवे प्रेशर (बाइपेप) मोड है. (सांकेतिक तस्वीर)

बाइपेप (BiPAP) एक उपकरण है जो शरीर में बिना किसी नली के सांस लेने में मदद करता है. इस तरह की खबरें सामने आई थीं कि ‘भारत निर्मित’ वेंटिलेटरों (Made In India Ventilators) में बाइपेप मोड (BiPAP Mode) नहीं है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health & Family Welfare) ने बुधवार को कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को जिन ‘मेड इन इंडिया’ वेंटिलेटरों (Made in India Ventilators) की आपूर्ति की गयी है वे विशेष आवश्यकताओं को पूरा करते हैं और उनमें बाइलेवल पॉजिटिव एयरवे प्रेशर (बाइपेप) मोड है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को भेजे गये भारत निर्मित किफायती वेंटिलेटर मॉडलों बीईएल और एजीवीए में बाइपेप मोड (BiPAP Mode) और ऐसे अन्य मोड हैं जिन्हें तकनीकी विशेषज्ञताओं में निर्दिष्ट किया गया है.’’

बाइपेप एक उपकरण है जो शरीर में बिना किसी नली के सांस लेने में मदद करता है. इस तरह की खबरें सामने आई थीं कि ‘भारत निर्मित’ वेंटिलेटरों में बाइपेप मोड नहीं है. मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, ‘‘कुछ खबरों से स्वास्थ्य मंत्रालय के संज्ञान में आया है कि भारत सरकार (Government of India) द्वारा जिन वेंटिलेटरों की आपूर्ति की गयी है, उनमें बाइपेप मोड उपलब्ध नहीं होने का मुद्दा उठाया गया है.’’ भारत में बने ये वेंटिलेटर आईसीयू (ICU) के लिए हैं.


स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक (डीजीएचएस) की अध्यक्षता में इस क्षेत्र के विशेषज्ञों की एक तकनीकी समिति ने इन कोविड-19 वेंटिलेटरों के लिए तकनीकी विशेषज्ञताएं निर्धारित की थीं.



ये भी पढ़ें- त्वरित कदमों ने भारत को कोविड-19 संकट की स्थिति में जाने से बचाया

देश में 5 लाख 85 हजार से ज्यादा केस
गौरतलब है कि भारत में बुधवार को कोविड-19 (Covid-19) से एक दिन में रिकॉर्ड 507 लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 17,400 हो गई. वहीं, संक्रमण के 18,653 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 5,85,493 पर पहुंच गई. भारत में लगातार पांचवे दिन कोविड-19 के 18000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं. एक जून से अभी तक 3,94, 958 मामले सामने आ चुके हैं.

ये भी पढ़ें- पतंजलि आयुर्वेद Coronil दवाई बेच सकता है, लेकिन इसे Covid-19 का इलाज बताकर नहीं: आयुष मंत्रालय

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के अनुसार देश में अब 2,20,114 लोगों का इलाज चल रहा है और 3,47,978 लोग ठीक हो चुके हैं. अधिकारी ने कहा, ‘‘ मरीजों के ठीक होने की दर 59.43 प्रतिशत है.’’

कुल पुष्ट मामलों में विदेशी नागरिक भी शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज