• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • MP में ऑपरेशन लोटस! कांग्रेस के 11 MLAs ने की 'बगावत', 4 अब भी 'नाराज़', जानें कितनी संकट में कमलनाथ सरकार?

MP में ऑपरेशन लोटस! कांग्रेस के 11 MLAs ने की 'बगावत', 4 अब भी 'नाराज़', जानें कितनी संकट में कमलनाथ सरकार?

  (PTI)

(PTI)

कुल 230 विधायकों वाली मध्य प्रदेश विधानसभा (Madhya Pradesh Assembly) में अभी 228 विधायक हैं. इनमें से कांग्रेस (Congress) के 114, बीजेपी के 107 विधायक हैं. दो विधायक बहुजन समाज पार्टी से भी हैं. जबकि, सपा से एक और चार निर्दलीय विधायक भी हैं. वहीं, दो सीट विधायकों की मौत के चलते खाली हैं. बहुमत का आंकड़ा 115 है.

  • Share this:
    भोपाल/नई दिल्ली. कर्नाटक की तर्ज पर अब मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी सियासी नाटक शुरू हो चुका है. मंगलवार देर रात हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाया है. कांग्रेस नेता पीसी शर्मा का आरोप है कि कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) को अस्थिर करने को लेकर बीजेपी ने 11 विधायकों को पाला बदलने के लिए 35 करोड़ रुपये का ऑफर दिया था. विधायकों को गुरुग्राम के एक होटल में रखा गया था.

    हालांकि, दिग्विजय सिंह ने दावा किया कि इनमें से 7 विधायकों को बीजेपी के 'कब्‍जे' से मुक्‍त करा लिया गया है. अब सिर्फ 4 विधायक ही बीजेपी के पास हैं. इस सियासी घमासान के बीच आइए समझते हैं कि ये 4 विधायक क्या कमलनाथ सरकार के लिए मुसीबत बन सकेंगे, या फिर कांग्रेस सरकार इस कथित 'ऑपरेशन लोटस' को नाकाम कर देगी. इसके लिए आइए मध्य प्रदेश के सियासी समीकरण पर एक नजर डालते हैं...

    क्या है मध्य प्रदेश विधानसभा की स्थिति
    कुल 230 विधायकों वाली मध्य प्रदेश विधानसभा में अभी 228 विधायक हैं. इनमें से कांग्रेस के 114, बीजेपी के 107 विधायक हैं. दो विधायक बहुजन समाज पार्टी से भी हैं, जबकि सपा से एक और चार निर्दलीय विधायक भी हैं. वहीं दो सीट विधायकों के निधन के चलते खाली हैं. ऐसे में बहुमत का आंकड़ा 113 है.

    बीजेपी के पास कांग्रेस के कितने विधायक होने का दावा?
    दिग्विजय सिंह का दावा है कि बीजेपी के पास अभी कांग्रेस के तीन विधायक और एक निर्दलीय विधायक है. दिग्विजय सिंह ने कहा, 'मध्य प्रदेश के विधायकों को धोखा देकर होटल में लाया गया था. हमारे पास सबूत भी हैं. बीजेपी खुलेआम कांग्रेस पार्टी के विधायकों को पाला बदलने के लिए करोड़ों का लालच दे रही है.'

    इससे कमलनाथ सरकार पर क्या असर होगा?
    जानकारों की मानें तो फिलहाल राज्य में कांग्रेस सरकार सुरक्षित है. कांग्रेस को 121 विधायकों का समर्थन हासिल है. अगर बीजेपी हॉर्स ट्रेडिंग कर भी रही है, तो भी उसे सरकार बनाने के लिए कम से कम 6 विधायकों की जरूरत होगी.

    दिग्विजय का दावा है कि बीजेपी के पास कांग्रेस के तीन और एक निर्दलीय विधायक हैं, जिन्हें वापस बुलाने की कोशिशें जारी हैं. लेकिन, अगर बीजेपी और चार से पांच विधायक तोड़ लेती है, तो कांग्रेस की सरकार मुश्किल में आ सकती है. हालांकि, जानकारों का कहना है कि फिलहाल ऐसा होता नहीं दिख रहा, क्योंकि, कांग्रेस अपने वापस लाए अपने विधायकों को दूसरे जगह शिफ्ट कर रही है. सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि इन सभी विधायकों को कर्नाटक के एक रिजॉर्ट में शिफ्ट किया जा सकता है.

    ये भी पढ़ें: MP का सियासी ड्रामा: कर्नाटक भेजे जा सकते हैं कांग्रेस के चार MLA, नड्डा से मिलेंगे शिवराज

    MP का सियासी ड्रामा: दिग्विजय का दावा- BJP ने 11 विधायकों को होटल में रखा, अब सिर्फ चार बचे

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज