मुंबई-गुजरात में गुरुवार को भारी बारिश का अलर्ट, देश में बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में 12 की मौत

मौसम विभाग ने महाराष्ट्र और गुजरात के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है  (PTI)
मौसम विभाग ने महाराष्ट्र और गुजरात के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है (PTI)

भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) ने महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुंबई (Mumbai) और ठाणे (Thane) सहित कोंकण (Konkan) में अगले 18 घंटों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक इस क्षेत्रों और गोवा (Goa) के कई हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की आशंका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 15, 2020, 11:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बारिश और बाढ़ जनित घटनाओं में देश में 12 लोगों की मौत हो गयी. मौसम विभाग (IMD) ने महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुंबई (Mumbai) और अन्य तटीय इलाकों में भारी बारिश के बाद क्षेत्र के लिए ‘रेड अलर्ट’(Red Alert) जारी किया. असम (Assam) में बाढ़ से सात लोगों की मौत हो गयी. उत्तराखंड (Uttarakhand) में मकान ढहने से एक गर्भवती महिला समेत चार लोगों की मृत्यु हो गयी. महाराष्ट्र में वज्रपात की चपेट में आने से एक किसान की मौत हो गयी. आधिकारिक बुलेटिन के मुताबिक बाढ़ के कारण असम के 26 जिलों में 36 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. मोरिगांव में तीन लोग, बारपेटा में दो लोग तथा सोनितपुर और गोलाघाट जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गयी. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) ने कहा है कि बाढ़ जनित घटनाओं में अब तक 92 लोगों की मौत हुई है. इसमें 66 लोगों की मौत बाढ़ में और 26 लोगों की मौत भूस्खलन में हुई.

मुंबई और तटीय महाराष्ट्र में भारी बारिश के मद्देनजर मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है. इससे पहले चेतावनी के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया था. मंगलवार रात से ही शहर में भारी बारिश के कारण कई इलाकों में जलभराव हो गया है. राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के एक वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने बताया कि मुंबई के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. मुंबई एवं तटीय महाराष्ट्र में बुधवार को भारी बारिश हुयी जिसके परिणामस्वरूप निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गयी.

गुजरात के लिए भी अलर्ट जारी
महाराष्ट्र के साथ ही भारतीय मौसम विभाग ने गुजरात (Gujarat) में भी गुरुवार को भारी बारिश होने की भविष्यवाणी की है और इसके लिये अलर्ट जारी किया है. विभाग ने अपने पूर्वानुमान में बताया है कि गुजरात में गुरुवार को भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है.
ये भी पढ़ें- मुंबई, ठाणे और कोंकण में अगले 18 घंटे में हो सकती है तेज से बहुत तेज बारिश, रेड अलर्ट जारी



दिल्ली में 17 जुलाई से मिल सकती है राहत
मौसम विभाग के मुताबिक जुलाई में अब तक दिल्ली (Delhi) में 44 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी है यह सामान्य बारिश 88.3 मिलीमीटर के 50 प्रतिशत से भी कम है. मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर के महेश पलावत ने बताया कि मानसून का रूख हिमालय की तलहटी की तरफ होने से पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में छिटपुट बारिश ही हुई है. मानसून के 17 जुलाई को उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है. इससे पंजाब, हरियाणा और दिल्ली समेत उत्तर भारत में बारिश होगी.

मौसम विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में 17 जुलाई से 20 जुलाई के बीच हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होने की संभावना है. राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को गर्मी का प्रकोप जारी रहा और उमस का सामना करना पड़ा.

ये भी पढ़ें- इस राज्य में प्लाज्मा डोनेट करने पर 5000 रुपये प्रोत्साहन राशि देगी सरकार

उत्तराखंड के देहरादून जिले के चुक्खूवाला क्षेत्र में एक मकान के ढह जाने से उसके मलबे में दबकर एक आठ वर्षीय बालिका और एक गर्भवती महिला सहित एक परिवार के चार सदस्यों की मौत हो गयी. घटना में दो लोग घायल हो गए. पुलिस ने बताया कि रात करीब डेढ बजे बारिश के बीच मकान ढहने से यह घटना हुई.

उत्तर प्रदेश और हरियाणा का ऐसा है हाल
उत्तरप्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम स्तर की बारिश हुई. राज्य में 16 और 17 जुलाई के बीच कई स्थानों पर बारिश होने का अनुमान है. हरियाणा और पंजाब में अधिकतम तापमान सामान्य के आसपास रहा. चंडीगढ़ में मंगलवार रात बारिश हुई और बुधवार को यहां पर तापमान 33.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हरियाणा के अंबाला में 35.1 डिग्री सेल्सियस, हिसार में 36.9 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. पंजाब के अमृतसर में अधिकतम तापमान 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिनों में दोनों राज्यों में बारिश होने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज