• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • महाराष्ट्र: कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना की सरकार का फॉर्मूला तैयार! कौन होगा सीएम?

महाराष्ट्र: कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना की सरकार का फॉर्मूला तैयार! कौन होगा सीएम?

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के बीच सरकार बनाने के लिए तीनों ही पार्टियां जोर लगा रही हैं.

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के बीच सरकार बनाने के लिए तीनों ही पार्टियां जोर लगा रही हैं.

महाराष्ट्र (Maharashtra) में राष्ट्रपति शासन के बीच शिवसेना (Shivsena), एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) सरकार बनाने के लिए लगातार प्रयास कर रही हैं. इसी गहमागहमी के बीच तीनों ही पार्टियां लगातार बैठक कर रही हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) में राष्ट्रपति शासन के बीच शिवसेना (Shivsena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) के बीच सरकार बनाने की कोशिशें लगातार जारी हैं. इसकी के चलते तीनों पार्टियों ने गुरुवार को बैठक की. इस बैठक में तीनों ही पार्टियों के दिग्गज नेता शामिल हुए. जानकारी के मुताबिक शिवसेना की तरफ से एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde), कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण (Prithviraj Chavhan), एनसीपी नेता छगन भुजबल (Chagan Bhujbal) शामिल हुए.

    इस बैठक के बाद शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने मीडिया से बताया कि तीनों पार्टियों के बीच कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर चर्चा हुई और इसका एक ड्राफ्ट भी तैयार किया गया है. इस ड्राफ्ट को तीनों पार्टियों के हाईकमान को भेजा जाएगा. पार्टियों के हाई कमान ही मिलकर आपस में तय करेंगे कि आखिरी निर्णय क्या होगा.

    अब सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि इन तीनों पार्टियों के बीच न्यूनतम साझा कार्यक्रम (Common Minimum Program) को लेकर सहमति बन गई है. अब तक जिन मुद्दों पर सहमति की जानकारी मिली है उनमें किसान कर्जमाफी, फसल बीमा योजना की समीक्षा, रोजगार और छत्रपति शिवाजी महाराज और बीआर अंबेडकर स्मारक शामिल हैं.

     



    हालांकि राज्य में मुख्यमंत्री कौन सी पार्टी का होगा इसे लेकर कोई जानकारी नहीं मिल सकी है. इससे पहले एनसीपी ने भी शिवसेना के सामने ढाई साल के लिए अपनी पार्टी का मुख्यमंत्री बनाने की शर्त रखी थी. ऐसे में यह साफ नहीं हो सका है कि दोनों ही पार्टियों के बीच इे लेकर कोई समझौता हुआ है या नहीं. अब खबर है कि जल्द ही ये ड्राफ्ट तीनों ही पार्टियों के अध्यक्षों को भेजा जाएगा. पार्टी अध्यक्षों के हामी भरने पर ही सरकार बनने की प्रक्रिया की शुरुआत होगी.

    maharshtra, congress, ncp
    महाराष्ट्र में गुरुवार को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं ने बैठक की.


    दिल्ली में मिल सकते हैं सोनिया-पवार
    वहीं सूत्रों के हवाले से यह भी जानकारी मिली है कि जल्द ही एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के साथ बैठक करने के लिए दिल्ली आ सकते हैं. इन दो बड़े नेताओं की 17 या 18 नवंबर को मुलाकात हो सकती है. पवार और सोनिया की इस बैठक में शिवसेना से गठबंधन को लेकर भी चर्चा हो सकती है. इसके अलावा कॉमन मिनिमम प्रोग्राम को लेकर भी इन दोनों के बीच चर्चा हो सकती है. हालांकि फिलहाल यह साफ नहीं हो सका है कि सीएमपी फाइनल होने के बाद शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे इन दोनों नेताओं से मुलाकात करेंगे या नहीं.

    वहीं इससे पहले कांग्रेस और एनसीपी की 10 सदस्यीय को-ऑर्डिनेशन कमेटी ने बुधवार को भी न्यूनतम साझा कार्यक्रम को लेकर मुलाकात की. सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख बालासाहेब थोराट और राज्य के एनसीपी के अध्यक्ष जयंत पाटिल ने गुरुवार को शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मुलाकात की.

    महाराष्ट्र में लगा हुआ है राष्ट्रपति शासन
    21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा और शिवसेना ने एक साथ चुनाव लड़ा था जिसमें भाजपा ने 105 सीटें जीती थीं तो वहीं शिवसेना ने राज्य की 56 सीटों पर जीत हासिल की थी. इसके बाद मुख्यमंत्री के पद को लेकर पैदा हुए गतिरोध के चलते दोनों पार्टियों ने एक-दूसरे से किनारा कर लिया. जिसके बाद बीजेपी ने घोषणा कर दी कि वह राज्य में अकेले सरकार बनाने की स्थिति में नहीं है.

    इसके बाद राज्य की दूसरी और तीसरी बड़ी पार्टी शिवसेना और एनसीपी भी दिए हुए समय में समर्थन पेश नहीं कर सकीं जिसके बाद राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया.

    यह भी पढ़ें-
    NCP-कांग्रेस से नजदीकियों के बाद NDA की बैठक में भी हिस्सा नहीं लेगी शिवसेना

    कभी मातोश्री में बनती बिगड़ती थी सरकार, आज होटल-होटल चक्कर काट रहे हैं उद्धव

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज