महाराष्ट्र में कोरोना का कहर, 24 घंटे में 6555 केस और 151 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में कोरोना के 6555 केस (सांकेतिक तस्वीर)
महाराष्ट्र में कोरोना के 6555 केस (सांकेतिक तस्वीर)

महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में 24 घंटे में कोविड-19 के 6555 नए केस सामने आए है. इसके बाद कोरोना संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 2,06,619 हो गई. इस महामारी से राज्‍य में अभी तक 8,822 लोग जान गंवा चुके हैं.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में कोरोना वायरस संक्रमण (coronavirus) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. राज्य में रोजाना संक्रमण के मामलों में नया रिकॉर्ड बन रहा है. इसी के तहत पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 6555 नए केस सामने आए है. जबकि इस दौरान 195 लोगों की मौत हो गई. इसके साथ ही महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 2,06,619  हो गई है. इस महामारी से राज्‍य में अभी तक 8,822  लोग जान गंवा चुके हैं. राज्य में फिलहाल 86,040 केस एक्टिव हैं

इससे पहले शनिवार को महाराष्ट्र में एक दिन में सबसे ज्यादा 7,074 केस सामने आए थे. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि शनिवार को 295 मरीजों के दम तोड़ने की वजह से मृतकों का आंकड़ा 8,671 पहुंच गया था. वहीं 3,395 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई है. इसके बाद अब तक कुल 1,08,082 मरीज बीमारी से ठीक हो चुके हैं. विभाग ने बताया कि 2,06,619  में से 83,311 मरीज संक्रमण का इलाज करा रहे हैं. वहीं 10,80,975 लोगों की जांच की गई है.


मुंबई में कल सामने आए थे 4045 मामले



मुंबई महानगर क्षेत्र में कल को 4,045 नए मामले आए थे, जिसके बाद क्षेत्र में कुल मामले 1,41,828 हो गए. इस क्षेत्र में मुंबई भी आता है. इस क्षेत्र में अब तक 6,312 लोगों की मौत हो चुकी है. मुंबई में कुल मामले 83,237 हैं और 4,830 मरीजों की मौत हो गई. ठाणे शहर और कल्याण डोम्बिवली पट्टी में क्रमशः 11,610 और 9,804 मामले आए हैं.

महाराष्ट्र में सैलून के बाद अब खुलेंगे होटल और रेस्त्रां
बता दें कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना संकट के बीच सैलून के बाद अब जल्द ही होटल भी खुलने वाले हैं. राज्य में होटल कब खुलेंगे, राज्य सरकार की ओर से जल्द ही इसकी जानकारी साझा की जाएगी और इस संबंध में मानक संचालन प्रक्रिया (Standard Operations Procedure) भी जारी की जाएगी. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने रविवार को राज्य के होटल मालिकों के साथ बैठक की. मुख्यमंत्री ने रविवार को कहा कि राज्य में होटल एवं रेस्तरां फिर से खोले जाने के बारे में निर्णय मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) को अंतिम रूप दिये जाने के बाद लिया जाएगा.

होटल एवं लॉज के विभिन्न संघों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि होटल उद्योग ने पर्यटन क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. एक अन्य बैठक को संबोधित करते हुए मुख्मयंत्री ने कंपनियों से अपने श्रमिकों की छंटनी नहीं करने की अपील की. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘होटलों और रेस्तरां को फिर से खोले जाने के लिये एसओपी को अंतिम रूप दिया जा रहा है. यह पूरा हो जाने पर होटलों और रेस्तरां को फिर से खोले जाने पर निर्णय लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज